राज्य ब्यूरो, देहरादून: कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और मंगलौर के विधायक काजी निजामुद्दीन ने हाईकोर्ट द्वारा गौ संरक्षण पर दिए गए निर्देशों को लेकर भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि गौ, गंगा व हिमालय पर राजनीति करने वाली भाजपा डेढ़ वर्ष से इस मसले पर कुछ नहीं कर पाई है। इस कारण कोर्ट को यह कदम उठाना पड़ा है। उन्होंने कहा कि वह अपने क्षेत्र में विधायक निधि से गौ वार्ड व गौ आइसीयू बनाएंगे। इसके लिए उन्होंने जिलाधिकारी हरिद्वार को पत्र लिखकर इसका एस्टीमेट बनाकर देने को कहा है।

गुरुवार को कांग्रेस भवन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए विधायक मंगलौर ने कहा कि हाईकोर्ट द्वारा गौ संरक्षण के लिए सरकार को दिए गए निर्देशों से यह स्पष्ट हो गया है कि सरकार इस दिशा में अभी तक कुछ नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि अधिकांश पशु चिकित्सालयों में चिकित्सक व फार्मासिस्ट की कमी चल रही है। गाय सड़कों पर घूम रही हैं। उनके रहने के लिए कोई जगह नहीं है। गौचर में एक कांग्रेसी नेता अपने व्यक्तिगत संसाधनों से एक गौ सदन चला रहा है। उन्होंने सरकार पर गन्ना किसानों की अनदेखी का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार वित्तीय प्रबंधन में फेल रही है। अभी तक गन्ना किसानों का भुगतान नहीं हो पा रहा है। गन्ना मिलें किसानों के बकाया का भुगतान नहीं कर पा रही है और न ही सरकार इसके लिए कोई ठोस कदम उठा पा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस