जागरण संवाददाता, देहरादून : पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और उनके पुत्र पूर्व विधायक संजीव आर्य पर हुए हमले की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने राज्य में लचर कानून व्यवस्था का आरोप लगाते हुए मंगलवार दोपहर को एस्लेहाल चौक पर प्रदेश सरकार का पुतला दहन किया।

कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक राजकुमार, महानगर कांग्रेस अध्यक्ष लालचंद शर्मा व राहुल सोनकर के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकत्र्ता सुबह दस बजे कांग्रेस भवन में एकत्र हुए। इसके बाद नारेबाजी करते हुए एस्लेहाल चौक पहुंचे। यहां पर कार्यकत्र्ताओं ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को पुख्ता करने और आरोपितों की शीघ्र धरपकड़ की पुरजोर मांग की। इस दौरान पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि पांच दिन पहले पूर्व कैबिनेट मंत्री व पूर्व काग्रेस प्रदेश अध्यक्ष यशपाल आर्य व नैनीताल के पूर्व विधायक संजीव आर्य काग्रेस सम्मेलन में शामिल होने के लिए कार्यकत्र्ताओं के साथ बाजपुर जा रहे थे। तभी रास्ते में अपराधियों के एक गुट ने उनपर लाठी व डंडों से हमला कर दिया। इसमें कई कार्यकत्र्ता भी चोटिल हुए। इस घटना में भाजपा के पदाधिकारियों और समर्थकों के नाम सामने आए हैं। यह भाजपा की कुरीतियों को दर्शाता है। पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि उत्तराखंड को सबसे सुरक्षित राज्यों में से माना जाता है, लेकिन अब उत्तराखंड में भी अपराध दर बढ़ती जा रही है। इस अवसर पर प्रदेश सचिव सोमप्रकाश वाल्मीकि, पार्षद देविका रानी, निखिल कुमार, राजेश चौधरी, अशोक शर्मा, तरुण मारवाह, देवेंद्र कौर, दीपा चौहान, महानगर व्यापार मंडल अध्यक्ष सुनील बागा, जहागीर खान, महानगर महामंत्री नीरज नेगी, ऋषभ जैन, आरुषि सुंद्रियाल, यश रतूड़ी, कविता, अंजलि चमोली, आशु रतूड़ी, नीरज सोनकर, राजीव सोनकर आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran