देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सचिवालय में फर्जी नियुक्ति मामला सामने आने को गंभीर बताते हुए सरकार पर हमला बोला है। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में पार्टी प्रतिनिधिमंडल ने सचिवालय में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। 

ज्ञापन में इस प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच कर संलिप्त लोगों का पर्दाफाश करने की मांग की है। ज्ञापन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि रोजगार के नाम पर बेरोजगारों के साथ ठगी पर सख्ती से कार्रवाई की जरूरत है। पार्टी को पता चला है कि कोटद्वार निवासी संदीप सिंह बिष्ट ने सचिवालय के कुछ लोगों की मिलीभगत से युवा बेरोजगारों को फर्जी नियुक्ति पत्र देकर रोजगार दिलाने के लिए मोटी रकम लेकर ठगने का काम किया है। 

उन्होंने कहा कि बेरोजगार युवाओं ने उक्त व्यक्ति पर गंभीर आरोप लगाए हैं, इससे सचिवालय की संलिप्तता भी जाहिर हो रही है। यह सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान है। 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस का दावा तो कर रही है, लेकिन हकीकत इससे अलग है। पार्टी इस संवेदनशील प्रकरण पर दोषियों के खिलाफ सख्ती कार्रवाई के साथ पूरे प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच की मांग करती है। इस मामले में संलिप्त सभी लोगों का पर्दाफाश होना जरूरी है। 

प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, पूर्व विधायक राजकुमार, पूर्व महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, प्रभुलाल बहुगुणा, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी मेहरा, राजेंद्र शाह शामिल थे।

यह भी पढ़ें: किशोर ने उठाई उत्तराखंड को वन प्रदेश घोषित करने की मांग

यह भी पढ़ें: भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों की घोषणा

यह भी पढ़ें: अजय भट्ट ने जगद्गुरु राज राजेश्वराश्रम से मुलाकात कर बताई सरकार की उपलब्धियां