देहरादून, जेएनएन। धारचूला से कांग्रेस विधायक हरीश धामी के आपदा प्रभावित क्षेत्रों को राहत मुहैया कराने को इस्तीफे की पेशकश के बाद प्रदेश कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रदेश में आपदा प्रबंधन कहीं नजर नहीं आ रहा है। प्रभावित क्षेत्रों में राहत पहुंचाने में सरकार नाकाम साबित हो रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने धारचूला विधायक हरीश धामी से दूरभाष पर वार्ता कर उनका हाल-चाल जाना तथा उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। बीते रोज अपने विधानसभा क्षेत्र में आपदा प्रभावितों को सहायता पहुंचाने के दौरान विधायक धामी बरसाती नाले में पैर फिसलने के कारण जख्मी हो गए थे। 

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में शुक्रवार को मीडिया से मुखातिब प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि धारचूला विधायक लगातार जान जोखिम में डालकर आपदा प्रभावित क्षेत्रों में सक्रिय हैं। वहां काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय विधायक को मजबूरन यह कहना पड़ा कि सरकार उनके क्षेत्र में काम नहीं करना चाहती तो वह इस्तीफा देने को तैयार हैं। 

मसूरी विधायक ने बारिश से हुए नुकसान का लिया जायजा

गुरुवार देर रात हुई मूसलाधार बारिश से विभिन्न क्षेत्रों में काफी नुकसान हुआ। शुक्रवार को मसूरी विधायक गणेश जोशी ने विजय कॉलोनी के पथरिया पीर, दून विहार के सोनिया बस्ती एवं विवेक विहार सहित कैनाल रोड जाखन के बारीघाट व दुर्गा विहार आदि क्षेत्रों में नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने प्रभावित परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

शुक्रवार सुबह अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे मसूरी विधायक ने सोनिया बस्ती में दीवार ढहने से क्षतिग्रस्त पांच दोपहिया वाहनों का मुआवजा व पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। विवेक विहार में एक पेड़ टूटने से काफी नुकसान हो गया था, जिसके बाद एसडीआरएफ मौके पर पहुंची और राहत कार्यो में जुट गईं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत पर की मुकदमा दर्ज करने की मांग

बारीघाट में रिस्पना नदी के तेज बहाव के पुस्तों को पहुंचे नुकसान से कारण सड़क किनारे बने घरों को खतरा पैदा हो गया है, विधायक जोशी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को पुस्तों पर तारजाल लगाने को कहा है। विजय कॉलोनी के पथरिया पीर और बदरीनाथ कॉलोनी में निरीक्षण के दौरान विधायक जोशी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को पुश्ते दुरुस्त करने और तारजाल लगाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: 15 अगस्त से पहले निकायों में नामित होंगे प्रतिनिधि, मंत्रालय को मिली सभी जिलों की सूची

Posted By: Sumit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस