देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: अब उत्तराखंड के किसी भी जिले से लोग मोबाइल में एक क्लिक के जरिये पुलिस तक अपनी शिकायत पहुंचा सकेंगे। पुलिस मुख्यालय में डीजीपी एमए गणपति की ओर से कुमाऊं परिक्षेत्र के लिए मोबाइल ऐप के लोकार्पण के साथ ही पूरे प्रदेश में अब यह सुविधा लागू हो गई है। इससे पहले गढ़वाल परिक्षेत्र में गत 31 अक्टूबर से यह सेवा लागू हो चुकी थी।
उत्तराखंड पुलिस की ओर से जारी इस मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये कोई भी व्यक्ति अब अपनी आपराधिक शिकायत, एलर्ट, खोया पाया, किराएदार व घरेलू नौकर का सत्यापन करा सकता है।

पढ़ें:-भारतीय सैन्य अकादमी में पासिंग आउट परेड, भारतीय सेना के अंग बने 565 नौजवान अफसर

कार्यक्रम में डीजीपी एमए गणपति ने कहा कि इस मोबाइल ऐप के जरिये जनता को पुलिस तक अपनी बात पहुंचाने में काफी आसानी होगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने विभिन्न प्रदेशों में चल रहे पुलिस के मोबाइल ऐप देखे हैं, लेकिन उत्तराखंड की मोबाइल ऐप इस्तेमाल करने में सबसे अधिक सरल है।
इसके माध्यम से बिना व्यक्तिगत रूप से थाना व चौकी के चक्कर काटे, सूचनाओं एवं सेवाओं का आदान प्रदान व पुलिस की सेवाएं प्राप्त की जा सकती हैं। पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल रेंज संजय कुमार गुंज्याल ने कहा कि पुलिस की छवि को एक झटके से दूर नहीं किया जा सकता। यह एप्लीकेशन न केवल लोगों को अपनी बात पुलिस तक पहुंचाने में मदद करेगा, बल्कि पुलिस की छवि भी सुधारने का कार्य करेगी।

पढ़ें:-सेना में कुक के बेटे ने पिता का सिर किया गर्व से ऊंचा, बना सेना में अफसर
उन्होंने बताया कि गढ़वाल परिक्षेत्र में अभी तक 17406 लोगो ने इसे डाउनलोड किया है। इसमें अभी तक 96313 शिकायतें व सुझाव आए हैं। इनका लगातार निस्तारण किया जा रहा है। कार्यक्रम में अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था अनिल कुमार रतूडी, पुलिस महानिरीक्षक दीपम सेठ, जीएस मार्तोलिया, उप महानिरीक्षक कुमाऊं पीएस सेलाल आदि उपस्थित थे।
पढ़ें-उत्तराखंड पुलिस को मिले 327 दरोगा

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस