देहरादून, राज्य ब्यूरो। राज्य सरकार ने सहायताप्राप्त अशासकीय माध्यमिक विद्यालयों को बड़ी राहत दी है। लगातार आचार संहिता के चलते ठप पड़ी भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के लिए उन्हें 30 दिन यानी एक महीने की मोहलत दी गई है। इससे 50 से अधिक विद्यालयों में शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मियों के 250 से ज्यादा पदों पर भर्तियां होंगी। 

शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया। सरकार ने राज्य के सहायताप्राप्त अशासकीय माध्यमिक विद्यालयों को तय 30 दिन के भीतर ही भर्ती प्रक्रिया पूरी करने को कहा है। इन विद्यालयों में भर्ती प्रक्रिया बीते वर्ष फरवरी से लंबित है। 50 से ज्यादा शासकीय विद्यालयों ने शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए विज्ञप्ति जारी की थी। बाद में लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने पर भर्ती प्रक्रिया में रोक लग गई। 

लोकसभा चुनाव की आचार संहिता मई माह में जैसे ही खत्म हुई, श्रीनगर और बाजपुर नगरपालिका चुनाव के चलते दोनों ही संबंधित जिलों में आचार संहिता लग गई। इसके कुछ अरसे बाद ही त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की आचार संहिता लागू होने से अब तक उक्त भर्ती प्रक्रिया ठप पड़ी है। ऐसे विद्यालयों की संख्या पौड़ी जिले में काफी है। शासनादेश के मुताबिक भर्ती प्रक्रिया को 90 दिनों के भीतर पूरी होना अनिवार्य है। 

यह भी पढ़ें: हर स्‍कूलों में सतर्कता समिति करेगी छात्रों की निगरानी, पढ़िए पूरी खबर

लगातार चुनाव प्रक्रिया के चलते निर्धारित समय के भीतर विद्यालयों में भर्तियां नहीं हो पाईं। इस मुद्दे को लेकर बीते माह विद्यालय प्रबंधकों के प्रतिनिधिमंडल ने विधानसभा स्थित कार्यालय में शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे से मुलाकात की थी। शिक्षा मंत्री ने इस संबंध में तत्काल विभागीय पत्रावली को अनुमोदित किया था। अब शासनादेश जारी होने से अशासकीय विद्यालयों ने राहत की सांस ली है। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के सरकारी डिग्री कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी, नहीं होगी फीस वृद्धि

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस