देहरादून, जेएनएन। मुख्यमंत्री सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शहीद पुलिस कर्मियों को याद किया। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि देश की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था, उत्तरदायित्व को पूर्ण निष्ठा से निभाते हुए प्राणों की आहुति देनी पड़ जाती है। 292 पुलिस कर्मियों ने आहुति दी, जबकि उत्तराखंड के एक पुलिस कर्मी ने आहुति दी है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत आज पुलिस लाइन में पुलिस स्मृति परेड में बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि सभी देश आतंकवाद की चुनौतियों से जूझ रहा है। हमें सुनियोजित रणनीति पर काम करना है। उत्तराखंड भौगोलिक परिस्थितियों के लिहाज से, आपदा, महाकुम्भ, चारधाम यात्रा की चुनोतियां सामने है। वर्दी धारी होने के कारण अनुशाशन में बंधे रहते है। कानून व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस कर्मोयों की अहम भूमिका है। इस दौरान सीएम ने पुलिस कर्मियों का धुलाई भत्ता 150 से 200 रुपये किया। स्वीपर का मानदेय 1500 से  2500 रुपये किया। विचाराधीन बंदियों की डाइट के 45 से 100 रुपये कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: पांच फीसद डीए और बोनस को मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: उत्‍तराखंड में 73 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप