देहरादून, राज्य ब्यूरो। प्रदेश में बीते साल हुए निवेश सम्मेलन से उत्साहित सरकार अब विदेशों में भी निवेशकों को उत्तराखंड की ओर आकर्षित कर रही है। इस कड़ी में अक्टूबर में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जार्जिया जाकर निवेशकों को आकर्षित करेंगे। जल्द ही इस दौरे की तिथियों को अंतिम रूप दिया जाएगा। 

सरकार ने बीते दो वर्षों से प्रदेश में निवेशकों को आकर्षित करने के लिए विभिन्न विभागों की नीतियों में परिवर्तन किए हैं। विशेषकर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग,भारी उद्योग, हेल्थ और वेलनेस, कृषि और उद्यान, पर्यटन, साहसिक खेलों के साथ ही सूचना प्रौद्योगिकी में निवेशकों को बेहतर माहौल देने का प्रयास किया गया है। इसके नतीजे गत वर्ष हुए निवेश सम्मेलन में देखने को मिले थे। इस दौरान देश-विदेश के निवेशकों ने उत्तराखंड में निवेश करने संबंधी तकरीबन एक लाख 25 हजार करोड़ के प्रस्तावों के समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए। इनमें से अभी तक 15 हजार करोड़ के प्रस्ताव धरातल पर उतरने के लिए तैयार हैं। 
इस सम्मेलन की सफलता से उत्साहित प्रदेश सरकार लगातार देश के भीतर और बाहर निवेशकों को आकर्षित करने का प्रयास कर रही है। कुछ समय पहले कर्नाटक में आयोजित इन्वेस्ट नार्थ समिट में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने निवेशकों से मुलाकात की थी। इसी कड़ी में एक प्रतिनिधमंडल इन दिनों सिंगापुर के दौरे पर है। अब अगले माह यानी अक्टूबर में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का यूरोपीय देश जार्जिया जाना प्रस्तावित है। जार्जिया पहले रूस का हिस्सा था। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री वहां निवेशकों को उद्योग, योग और वेलनेस के संबंध में निवेश करने के लिए आमंत्रित करेंगे। जल्द ही उनके इस दौरे की तिथि तय होने की उम्मीद है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस