संवाद सहयोगी, गोपेश्वर(चमोली): Chardham Yatra 2022 : चारधाम में हृदयाघात से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। सोमवार को बदरीनाथ में दो और केदारनाथ व हेमकुंड साहिब में एक-एक तीर्थ यात्री ने हृदयाघात से दम तोड़ दिया। इसी के साथ ऋषिकेश व हेमकुंड साहिब समेत चारों धाम में अब तक 209 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

सीने में तेज दर्द की शिकायत पर तत्काल चिकित्सालय पहुंचाया

जानकारी के अनुसार बदरीनाथ दर्शनों को आए आंध्र प्रदेश निवासी ओरेया गैंटी (78) व भीलवाड़ा (राजस्थान) निवासी शंकर लाल (64) और हेमकुंड साहिब की यात्रा पर आए अमृतसर (पंजाब) निवासी सतनाम सिंह (43) को सीने में तेज दर्द की शिकायत पर तत्काल चिकित्सालय पहुंचाया गया। जहां चिकित्सकों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया।

हृदयाघात से केदारनाथ में अब तक 98 तीर्थ यात्रियों की मौत

वहीं, केदारनाथ दर्शनों को जा रहीं कैसरबाग-लखनऊ (उत्तर प्रदेश) निवासी दीपा सोनकर (35) की रामबाड़ा के पास अचानक तबीयत बिगड़ गई। स्वजन ने दीपा को तत्काल भीमबली स्थित स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. बीके शुक्ला ने बताया कि हृदयाघात से केदारनाथ में अब तक 98 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

धाम- 27 जून को- कुल मृतक

यमुनोत्री- 00- 40

गंगोत्री-00- 12

केदारनाथ- 01- 98

बदरीनाथ- 02- 52

हेमकुंड- 01- 01

ऋषिकेश-00- 06

ऋषिकेश : अजमेर राजस्थान के बुजुर्ग का शव बैराज जलाशय में मिला

अजमेर राजस्थान से लापता बुजुर्ग का शव ऋषिकेश में बैराज जलाशय से बरामद हुआ है। वहीं बीते रविवार को शिवपुरी तथा लक्ष्मणझूला में गंगा में डूबे तीन व्यक्तियों का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। एसडीआरएफ के निरीक्षक कविंद्र सिंह सजवाण ने बताया कि सोमवार को पशुलोक बैराज से एक बुजुर्ग का शव बरामद किया गया।

शव की शिनाख्त के लिए थाना लक्ष्मणझूला पुलिस ने गुमशुदा व्यक्तियों के फोटो मिलान किए गए तो शव की शिनाख्त ग्राम करनोश पीशागन अजमेर राजस्थान निवासी 71 वर्षीय लाल सिंह के रूप में की गई। बुजुर्ग के पुत्र बादल सिंह ने उनकी शिनाख्त करते हुए बताया कि उनके पिता 24 जून को लापता हो गए थे। जिनकी गुमशुदगी थाना पीशागन अजमेर में लिखवाए गई थी। उसके बाद उनकी लोकेशन ऋषिकेश में मिली थी जिसके बाद उनकी फोटो यहां पर भेजी गई थी।

दूसरी ओर सप्ताहांत पर रविवार को थाना मुनिकीरेती के शिवपुरी में दिल्ली के दो दीपक वर्मा (30 वर्ष) और सचिन (23 वर्ष) गंगा में डूब गए थे। वहीं थाना लक्ष्मण झूला क्षेत्र के गोवा बीच में अमित बोबल (42 वर्ष) निवासी रेस कोर्स देहरादून गंगा में डूब गया था। गंगा में डूबे व्यक्तयों की तलाश में एसडीआरएफ रविवार सायं से ही सर्चिंग अभियान चला रही है। सोमवार को भी एसडीआरएफ का अभियान जारी रहा। इस दौरान गंगा में डूबे तीनों पर्यटको का तो कुछ पता नहीं चल पाया।

यह भी पढ़ें :- Chardham Yatra 2022 : मानसून में भी केदारनाथ के लिए जारी रहेंगी हवाई सेवाएं, 77 अति संवेदनशील स्थलों पर लगेंगे क्रैश बैरियर

Edited By: Nirmala Bohra