जागरण संवाददाता, उत्तरकाशी : Chardham Yatra 2022 : गुरुवार को चारधाम यात्रा पर आए दो तीर्थयात्रियों की मौत हुई है। इनमें एक महिला तीर्थ यात्री मुंबई महाराष्ट्र और दूसरा तीर्थ यात्री तमिलनाडु निवासी है।

अब तक 253 तीर्थ यात्री हृदयाघात से तोड़ चुके हैं दम

यमुनोत्री व गंगोत्री में हृदयाघात से अब तक कुल 62 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है। जबकि हेमकुंड साहिब, श्रीनगर व ऋषिकेश समेत चारधाम में अब तक 253 तीर्थ यात्री हृदयाघात से दम तोड़ चुके हैं।

गुरुवार की सुबह पालनीवेल की तबीयत बिगड़ी

गत बुधवार को तमिलनाडु के तसलुक स्ट्रीट संकरी गोंडर निवासी 62 वर्षीय पालनीवेल स्वजन के साथ गंगोत्री धाम पहुंचा। बुधवार की शाम को गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध होने के कारण स्वजन ने गंगोत्री धाम में स्थित एक गेस्ट हाउस में कमरा लिया।

गुरुवार की सुबह पालनीवेल की तबीयत बिगड़ी। स्वजन उसे उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गंगोत्री में लेकर गए। जहां उपचार के दौरान तीर्थयात्री ने दम तोड़ दिया।

दमयंती ने यमुनोत्री धाम जाने में असमर्थता व्यक्त की

वहीं ईस्ट मुंबई के घाटकोपर निवासी 52 वर्षीय दमयंती डेढिया स्वजन के साथ चारधाम यात्रा पर आयी थीं।

बदरीनाथ, केदारनाथ व गंगोत्री दर्शन करने के बाद गत बुधवार उनका तीर्थयात्री दल यमुनोत्री के खरादी पड़ाव पर पहुंचा। गुरुवार की सुबह दमयंती ने यमुनोत्री धाम जाने में असमर्थता व्यक्त की।

दमयंती की तबीयत खराब हुई, पर हालचाल जानने वाला कोई नहीं था

21 सदस्यीय यात्री दल यमुनोत्री धाम गया। जबकि दमयंती होटल में ही ठहरी। होटल में दमयंती की तबीयत खराब हुई, पर उसका हालचाल जानने वाला कोई नहीं था।

गुरुवार की शाम को जब यमुनोत्री दर्शन कर अन्य तीर्थयात्री वापस खरादी लौटे तो दमयंती की हालत गंभीर थी। स्वजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बड़कोट लेकर गए, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित किया।

  • धाम, 22 सितंबर को, कुल मृतक
  • यमुनोत्री, 01, 45
  • गंगोत्री, 01, 17
  • केदारनाथ, 00, 110
  • बदरीनाथ, 00, 72
  • हेमकुंड, 00, 02
  • श्रीनगर-गढ़वाल, 00, 01
  • ऋषिकेश, 00, 06

Edited By: Nirmala Bohra