संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: Chardham Yatra 2022 : केदारनाथ के लिए 30 जून से सभी हवाई सेवाएं बंद हो जाएंगी। लगातार हो रही वर्षा के चलते हेली कंपनियों ने यह निर्णय लिया है। पूर्व में हिमालयन हेली ने 10 जुलाई तक सेवाएं देने का निर्णय लिया था, लेकिन वह भी अपनी सेवाएं बंद कर देगी। वहीं, अभी नौ में से दो हवाई कंपनियां ही सेवाएं दे रही हैं। अब तक 81 हजार से अधिक यात्री हेली सेवा से दर्शनों को पहुंच चुके हैं। उधर, सितंबर से दूसरे चरण की सेवाएं फिर से शुरू होंगी।

केदारनाथ धाम के लिए छह मई से हवाई सेवाएं शुरू हो गई थीं। सहायक नोडल अधिकारी हेली सेवा एसएस पंवार ने बताया कि नौ हवाई कंपनियों ने अपनी सेवाएं शुरू की थी, जिसमें सात हवाई कंपनियां अब तक लौट चुकी हैं, यह सभी कंपनियां अब अमरनाथ यात्रा में सेवाएं देंगी। इस समय केवल दो हवाई कंपनियां आर्यन व हिमालय हेली अपनी सेवाएं दे रही हैं। इस वर्ष 14,665 उड़ानों से कुल 81,494 तीर्थ यात्री बाबा के दर पर पहुंचे हैं।

ऋषिकेश : साइकिल से केदारनाथ की यात्रा करने वाले कुलदीप हुए सम्मानित

साइकिल से ऋषिकेश केदारनाथ धाम की यात्रा पूरी करने वाले ऋषिकेश निवासी साइकिलिस्ट कुलदीप असवाल को नीरजा देवभूमि ट्रस्ट ने सम्मानित किया।

ऋषिकेश निवासी साइकिलिस्ट कुलदीप असवाल ने वर्ष 2013 में केदारनाथ में आई आपदा के मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए साइकिल से ऋषिकेश से केदारनाथ धाम गए थे। जहां 16 जून को आपदा के मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद कुलदीप असवाल साइकिल से ही वापस ऋषिकेश पहुंचे थे।

कुलदीप ने अपनी इस साइकिल यात्रा के जरिए नागरिकों को स्वास्थ्य शरीर के लिए साइकिल चलाने का संदेश दिया। कुलदीप स्वयं मधुमेह से ग्रसित हो गए थे, लाकडाउन में उन्होंने साइकिलिंग शुरू कर मधुमेह पर विजय प्राप्त की। जिसके बाद वह साइकिलिंग कर लंबी-लंबी यात्राएं कर चुके हैं।

रविवार को नीरजा देवभूमि ट्रस्ट की संस्थापक नीरजा गोयल ने कुलदीप असवाल को प्रमाणपत्र व स्मृतिचिह्न देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर ब्लू राइडर साइकिल क्लब ऋषिकेश के अध्यक्ष ज्योति शर्मा, प्रबंधक शैलेंद्र बिष्ट, राकेश सिंह, यशपाल चौहान, पूर्व प्रधानाचार्य डीबीपीएस रावत, हरीश आनंद, संस्थापक नूपुर गोयल, कपिल गुप्ता, पंकज गुप्ता, खुशी, केशव, ध्रुव बंसल, दिवाकर मिश्रा आदि मौजूद थे।

Edited By: Nirmala Bohra