देहरादून, जेएनएन। Chardham Yatra 2020 उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उन्‍होंने बाबा केदार के दर्शन कर शाम को आरती में भाग लिया। इस दौरान उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्र‍िवेंद्र सिंह रावत भी उनके साथ मौजूद रहे। इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने केदारनाथ धाम के सौंदर्य को निहारने के साथ ही यहां चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का भी निरीक्षण किया। आपको बता दें कि अब कल दोनों सीएम बदरी विशाल के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लेंगे। 

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रविवार दोपहर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे। यहां उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और मौजूद अधिकारियों ने उनकी अगवानी की। इसके बाद वे बाबा केदार के दर्शन के लिए हेलीकॉप्टर से धाम के लिए रवाना हुए। धाम पहुंचने पर उन्होंने वहां की सुंदरता को भी निहारा।

यहां पत्रकारों से बातचीत में सीएम योगी ने कहा, बाबा केदार का आदेश आया और हम उनके दर्शनार्थ यहां पहुंचे। मुझे 11-12 साल बाद बाबा केदार के दर्शनों का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। उन्होंने 2013 की आपदा का भी जिक्र किया। साथ ही कहा कि पीएम मोदी और राज्य के सीएम त्रिवेंद्र रावत के नेतृत्व में पुनरुद्धार का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। आपको बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ और त्रिवेंद्र सिंह रावत केदारनाथ में ही रात्रि विश्राम करेंगे।

कल करेंगे बदरी-विशाल के दर्शन 

16 नवंबर को दोनों सीएम सुबह सात बजे बदरीनाथ धाम पहुंचेंगे। भगवान बदरी-विशाल का आशीर्वाद लेने के साथ ही योगी आदित्यनाथ वहां उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से बनाए जा रहे विश्राम गृह के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद दोनों मुख्यमंत्री जौलीग्रांट एयरपोर्ट आएंगे। वहां से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ के लिए रवाना होंगे। 

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के केदारनाथ धाम में पहुंचने को लेकर जिला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए। उनके कार्यक्रम को लेकर जनपद के नवनियुक्त जिलाधिकारी मनुज गोयल और पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर केदारनाथ पहुंचे।

जिलाधिकारी मनुज गोयल ने बताया कि केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मुख्यमंत्रियों के कार्यक्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन सहित अन्य व्यवस्थाएं चाक-चौबंद कर दी गई हैं। वहीं, पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर ने कहा कि इस वीआइपी कार्यक्रम को लेकर पुलिस मुख्यालय कार्यालय से अतिरिक्त सुरक्षा बल भी मिला है। कहा कि श्री केदारनाथ धाम में सुरक्षा मानक के अनुसार पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था कर ली गई है।

यह भी पढ़ें: Badrinath Yatra 2020: उत्तराखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश मलिमथ ने किए भगवान बदरी-विशाल के दर्शन

Edited By: Raksha Panthari