जागरण संवाददाता, देहरादून। अनुबंध की शर्तों का उल्लंघन कर फ्लैट बेचने पर कैंट कोतवाली पुलिस ने दंपती के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। दून विहार जाखन निवासी महिला सनाली वालिया ने कोतवाली में तहरीर दी। जिसके अनुसार बंकिम शर्मा ने जून 2016 को हरिकांत नागर व उनकी पत्नी आशा नागर के साथ एक अनुबंध किया था। अनुबंध के अनुसार चायबाग कौलागढ़ में छह फ्लैटों का निर्माण होना था। प्रत्येक फ्लैट को बेचने पर प्राप्त होने वाली धनराशि में से 75 फीसद हरि नागर व आशा नागर, जबकि 25 फीसद पति बंकिम शर्मा को मिलना था। 

फ्लैट बेचने से पहले तीनों की सहमति अनिवार्य थी। 30 अगस्त, 2016 को सनाली के पति का निधन हो गया। 13 अक्टूबर, 2020 को निवेशक उदित कुमार जमीन पर गए तो देखा कि वहां पर कोई अन्य ठेकेदार काम कर रहा है। उदित कुमार ने हरिकांत नागर को फोन किया तो फोन बंद आ रहा था। उदित कुमार ने यह बात सनाली वालिया को बताई, तब शक हुआ। महिला ने सब रजिस्ट्रार कार्यालय से जांच करवाई तो पता लगा कि दंपती ने फ्लैट पहले ही बेच दिए। इंस्पेक्टर विद्याभूषण नेगी ने बताया कि धोखाधड़ी करने व तथ्य छिपाने पर हरिकांत नागर व उनकी पत्नी आशा नागर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

जाली दस्तावेज बनाकर जमीन पर कब्जा करने की कोशिश

जाली दस्तावेज बनाकर जमीन पर कब्जा करने की कोशिश के मामले में प्रेमनगर थाना पुलिस ने पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। मांडूवाला निवासी शुभम ने बताया कि नौ मार्च 2021 को चीनू उर्फ विनोद, यशपाल, अनीता देवी, नीरज अचानक उनके प्लॉट पर पहुंचे और धमकाने लगे। उन्होंने कहा कि यह जमीन थैल सिंह से खरीदी है। इसलिए तुरंत जमीन का कब्जा देना पड़ेगा। जमीन के विक्रयपत्र की फोटो कापी भी उन्होंने मौके पर दिखाई। जब उन्होंने सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगी तो पता लगा कि जाली विक्रयपत्र तैयार किया गया है। प्रेमनगर थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें- दहेज नहीं मिला तो सरेराह महिला को दिया तीन तलाक, पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021