जागरण संवाददाता, ऋषिकेश : यूनाइटेड नेशन डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत नगर निगम एचडीएफसी बैंक के सहयोग से सभी 40 वार्डों में प्लास्टिक उन्मूलन कार्यक्रम शुरू कर रहा है। जिसमें डोर टू डोर प्लास्टिक का कचरा एकत्र किया जाएगा। प्लास्टिक कचरा देने के बदले में संबंधित व्यक्ति को पहली बार कपड़े का थैला उसके बाद नगद धनराशि दी जाएगी।

नगर निगम सभागार में सभी पार्षदों की बैठक बुलाकर उन्हें यूएनडीपी के सहयोग से संचालित होने वाली प्लास्टिक उन्मूलन योजना के बारे में जानकारी दी गई। नगर निगम की महापौर अनीता ममगाई ने बताया कि नगर के अतिरिक्त आइडीपीएल कॉलोनी और समीप क्षेत्र में प्लास्टिक उन्मूलन कार्यक्रम शुरू होगा। कृष्णा नगर कॉलोनी में संबंधित संस्था के द्वारा प्रत्येक घर में गीला और सूखा कूड़ा रखने के लिए कूड़ा दान दिए जा रहे हैं। जिसे टीम द्वारा एकत्र कर निर्धारित स्थल तक पहुंचाया जाएगा।

मुख्य नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियल ने बताया कि निगम क्षेत्र के सभी 40 वार्डों में संबंधित पार्षदों के जरिए प्लास्टिक उन्मूलन कार्यक्रम संचालित किया जाना है। प्रत्येक पार्षद अपने क्षेत्र में सार्वजनिक स्थल या निजी भूखंड पर एक फेंके जाने वाला किसी भी तरह का कूड़ा हो उसकी जानकारी संबंधित अधिकारी को देगा। उन्होंने बताया कि डोर टू डोर प्लास्टिक एकत्र किया जाएगा। जिसे सेग्रीगेट करने के लिए देहरादून में भेजे जाने की व्यवस्था की गई है। कूड़ा बीनने वालों के माध्यम से भी प्लास्टिक प्राप्त किया जाएगा। ट्रेंचिंग ग्राउंड में सूखा और गीला कूड़ा से सेग्रीगेट किया जाएगा। कूड़ा बीनने वाले को प्लास्टिक एकत्र करने के बदले नगद भुगतान दिया जाएगा। नगर आयुक्त ने बताया कि प्रथम चरण में प्लास्टिक देने वाले लोगों को कपड़े का थैला उपलब्ध कराया जाएगा अगली बार उन्हें कूड़े के बदले उचित मूल्य का भुगतान किया जाएगा। बैठक में इस अभियान से जुड़े आकांक्षा इंटरप्राइजेज के सलाहकार महेंद्र सिंह रौतेला, विकास, सफाई निरीक्षक सचिन रावत, डीडी सेमवाल, अभिषेक मल्होत्रा पार्षद आदि मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस