मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देहरादून, राज्य ब्यूरो। त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल के विस्तार में अभी कुछ और वक्त लगेगा। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात न हो पाने के कारण मुख्यमंत्री अगले कुछ दिनों में फिर दिल्ली जाएंगे। समझा जा रहा है कि अब जल्द ही मंत्रिमंडल में रिक्त तीन पदों को भरने की कवायद अंजाम तक पहुंच जाएगी।

उत्तराखंड विधानसभा की सदस्य संख्या 70 है और संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक यहां अधिकतम 12 सदस्यीय मंत्रिमंडल हो सकता है। ढाई साल पहले, जब त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में सरकार बनी, तब मुख्यमंत्री समेत केवल 10 सदस्यीय मंत्रिमंडल ने शपथ ली। मंत्रिमंडल के रिक्त दो पदों को लेकर लगातार कयास लगाए जाते रहे मगर मुख्यमंत्री ने मंत्रिमंडल विस्तार नहीं किया। इस बीच गत जून में वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पंत के असामयिक निधन के कारण मंत्रिमंडल में एक स्थान और खाली हो गया। पंत के विभाग भी मुख्यमंत्री के पास आ गए। इस स्थिति में यह जरूरी हो गया कि कार्य की अधिकता को देखते हुए मुख्यमंत्री नए चेहरों को अपनी टीम में शामिल करें।

हाल ही में स्वयं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वयं इस बात की पुष्टि की कि वह जल्द मंत्रिमंडल का विस्तार करने जा रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि मंत्रिमंडल में रिक्त कितने स्थान भरे जाएंगे। बुधवार को मुख्यमंत्री बगैर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अचानक दिल्ली रवाना हुए। बताया गया कि उनका पार्टी अध्यक्ष व गृह मंत्री अमित शाह से भेंट का कार्यक्रम है। इससे राजनैतिक गलियारों में एक बार फिर मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं शुरू हो गईं। मुख्यमंत्री गुरुवार सुबह दिल्ली से देहरादून लौट आए। मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री की पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से भेंट नहीं हो पाई और वह जल्द ही फिर दिल्ली जाएंगे। इससे समझा जा रहा है कि शाह से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल विस्तार के फैसले को अमलीजामा पहना देंगे।

यह भी पढ़ें: पार्षदों के प्रस्ताव देख नगर निगम के अफसर आए सकते में Dehradun News

यह भी पढ़ें: हरिद्वार को छोड़कर उत्तराखंड में 30 नवम्बर तक होंगे पंचायत चुनाव UTTARAKHAND HIGH COURT

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप