देहरादून, राज्य ब्यूरो। पंचायत चुनाव के चलते डेढ़ माह बाद राज्य मंत्रिमंडल की बैठक 24 अक्टूबर को अल्मोड़ा में आयोजित की जाएगी। प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्र में त्रिवेंद्र सिंह रावत मंत्रिमंडल की यह तीसरी बैठक होगी। 

प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद सरकार ने मंत्रिमंडल की बैठक से गुरेज किया है। पंचायत चुनाव निपटने के बाद मंत्रिमंडल की बैठक नियत कर दी गई है। हालांकि इसे इस महीने के चौथे बुधवार को नहीं रखा गया है। राज्य सरकार ने हर महीने दूसरे और चौथे बुधवार को मंत्रिमंडल की बैठकों की तिथि नियत की है। खास बात ये है कि पंचायत चुनाव के बाद होने जा रही मंत्रिमंडल बैठक के लिए सरकार ने अल्मोड़ा का चयन किया है। 

त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार अंतरिम राजधानी देहरादून के अतिरिक्त प्रदेश के दूरदराज क्षेत्रों में भी बैठक आयोजित कर जनता के साथ कनेक्टिविटी का संदेश देने से गुरेज नहीं करती रही है। अभी तक टिहरी और पौड़ी में मंत्रिमंडल की बैठक हो चुकी हैं। टिहरी में बीते वर्ष तो पौड़ी में इसी वर्ष बीते मई माह के आखिरी हफ्ते में बैठक हुई थी। इन बैठकों में सरकार ने राज्य से जुड़े विभिन्न फैसलों के साथ ही स्थानीय स्तर पर अहम फैसले लेने की परंपरा डाली है। 

यह भी पढ़ें: बिगड़ैल बोल वाले विधायकों पर लगाम कसने की तैयारी में भाजपा

इससे पहले दोनों ही स्थानों पर ऐसा हो चुका है। माना जा रहा है कि कुमाऊं मंडल में पहली बार अल्मोड़ा में हो रही मंत्रिमंडल की बैठक में पर्वतीय क्षेत्रों और विशेष रूप से अल्मोड़ा को ध्यान में रखकर अहम फैसले लिए जा सकते हैं। ऊर्जा, कार्मिक, शिक्षा, उच्च शिक्षा, राजस्व, आबकारी महकमों से संबंधित फैसलों के साथ ही रोजगार जैसे विषय पर भी मंत्रिमंडल फैसले लेगी।

यह भी पढ़ें: भाजपा ने अपने विधायकों को पढ़ाया अनुशासन का पाठ

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप