राज्य ब्यूरो, देहरादून: भाजपा ने पंचायत चुनाव में पार्टी का परचम फहराने के मद्देनजर मंत्री व विधायकों को जिम्मेदारी सौंप दी है। क्षेत्र पंचायत प्रमुख व जिला पंचायत अध्यक्ष पदों पर पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के मद्देनजर उन्हे दायित्व सौंपे गए। भाजपा सांसदों, विधायकों, प्रांतीय पदाधिकारियों, दायित्वधारियों और जिला स्तर पर गठित समितियों के पदाधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इसके साथ ही 16 अक्टूबर को पंचायत चुनाव के अंतिम चरण का मतदान होने के बाद पार्टी के सांगठनिक चुनाव की प्रक्रिया तेज करने का निश्चय किया गया। इस कड़ी में पांच से 10 नवंबर के बीच एक तिथि को मंडल इकाइयों के चुनाव कराए जाएंगे। यही नहीं, पार्टी ने 16 अक्टूबर के बाद गांधी संकल्प यात्रा तेज करने का निश्चय भी किया है।

भाजपा के राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद अजय भट्ट, प्रदेश महामंत्री संगठन अजय कुमार की मौजूदगी में प्रदेश कार्यालय में हुई उक्त बैठक में कई अहम मसलों पर चर्चा की गई। प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने पत्रकारों से बातचीत में बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी साझा की।

प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि पंचायत चुनाव के चलते पार्टी के संगठनात्मक चुनाव स्थगित कर दिए गए थे। बैठक में तय किया गया कि पंचायत चुनाव के अंतिम चरण का मतदान होने पर 16 अक्टूबर के बाद संगठन के चुनाव प्रारंभ कर दिए जाएंगे। प्रदेश के दो जिलों टिहरी व अल्मोड़ा को छोड़ बूथ स्तर के चुनाव हो हो चुके हैं। जल्द ही दोनों जिलों में बूथ स्तर के चुनाव कराए जाएंगे। इसके बाद नवंबर में एक से 10 तारीख के बीच एक तिथि तय कर एक ही दिन 228 मंडलों में एक साथ चुनाव कराए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि पंचायत चुनावों में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने को मंत्री, विधायकों, दायित्वधारियों समेत सभी को जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। क्षेत्र पंचायत प्रमुखों व जिला पंचायत अध्यक्ष पदों पर भी भाजपा की जीत तय करने के मद्देनजर मंत्री, विधायकों व जिला स्तरीय अधिकारियों की कोर कमेटी बनाई गई है। हर हाल में पंचायतों में भाजपा का परचम फहराए, इसका जिम्मा कोर कमेटी को दिया गया है। प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि गांधी संकल्प यात्रा के तहत 16 अक्टूबर के बाद सांसद, विधायक हर रोज 150 कार्यकर्ताओं के साथ 10 किमी यात्रा करेंगे।

बूथ स्तर पर राज्य स्थापना दिवस के कार्यक्रम

बैठक में यह भी तय हुआ कि पार्टी स्तर से नौ नवंबर को राज्य स्थापना दिवस भव्य ढंग से मनाया जाएगा। प्रदेश अध्यक्ष के मुताबिक इस दिन पार्टी बूथ स्तर तक कार्यक्रम आयोजित करेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस