देहरादून, राज्य ब्यूरो। सोशल मीडिया पर वायरल हुए ऑडियो प्रकरण में भाजपा के नोटिस का सामना कर रहे विधायक उमेश शर्मा काऊ को राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश ने दिल्ली तलब किया है, जबकि विवादित वीडियो के मामले में इन दिनों चर्चा में आए विधायक राजकुमार ठुकराल की पीठ पर उन्होंने हाथ रखा। प्रदेश भाजपा कार्यालय में सोमवार को आयोजित बैठक के दौरान परिसर का ये वाकया चर्चा के केंद्र में रहा।

हुआ यूं कि भाजपा के राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश जब प्रदेश कार्यालय में चल रही बैठक से निकले तो विधायक काऊ ने ऑडियो प्रकरण के संबंध में उनसे बात करनी चाही। वह अपने साथ कुछ दस्तावेज भी साथ लाए थे, जिन्हें वह दिखाना चाहते थे। इस पर राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन ने कहा कि ये अवसर नहीं बात करने का, आप दिल्ली आइए।

इसके बाद जब राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन मुख्य द्वार की तरफ बढ़े तो तभी विधायक राजकुमार ठुकराल भी उनके पास पहुंच गए। विधायक ने अपनी बात कहते हुए कहा कि आपका आशीर्वाद चाहिए। तब राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन ने उनकी पीठ पर हाथ रखा और आगे बढ़ गए। वहीं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी विधायक ठुकराल के बयान से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि यह विधायक की निजी राय हो सकती है। पार्टी का इससे कोई संबंध नहीं है।गौरतलब है कि विधायक काऊ और ठुकराल को ऑडियो व वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के प्रकरण में भाजपा ने नोटिस जारी किए। दोनों विधायक अपना स्पष्टीकरण प्रदेश नेतृत्व को सौंप चुके हैं। दोनों ही मामलों में पार्टी स्तर से निर्णय होना बाकी है।

वीडियो प्रकरण पर ठुकराल ने जताया खेद

सोशल मीडिया में वायरल हुए विवादित वीडियो के मामले में भाजपा के नोटिस का सामना कर रहे रुद्रपुर से पार्टी विधायक राजकुमार ठुकराल ने इसका जवाब प्रदेश अध्यक्ष को सौंप दिया है। इसमें उन्होंने कहा कि एक हिस्ट्रीशीटर ने षड्यंत्र के तहत तोड़मरोड़कर उनके 2011 के वीडियो को वायरल किया। इससे पार्टी नेतृत्व को हुई शिकायत से वह खेद प्रकट करते हैं।विधायक ठुकराल ने अपने जवाब में कहा गया कि दो अक्टूबर 2011 में रुद्रपुर में दंगा हुआ था। तब उन्होंने शहर को बर्बाद होने से बचाया। यदि तब वह बाहर नहीं निकलते तो स्थिति बदतर हो सकती थी। उस वक्त वे विधायक अथवा अन्य किसी पद पर भी नहीं थे। अब सोची-समझी साजिश के तहत उनके खिलाफ तब का वीडियो तोड़ मरोड़कर वायरल किया गया है।

यह भी पढ़ें: बिगड़ैल बोल वाले विधायकों पर लगाम कसने की तैयारी में भाजपा

विधायक ने कहा कि भाजपा उनकी राजनीतिक माता है। वह प्रधानमंत्री मोदी के सबका साथ सबका विकास पर विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा कि जिस संगठन ने उन्हें ऊंचाईयों पर पहुंचा, वह उसके एजेंडे व नीति से ऊपर नहीं हैं। उन्होंने यह भी बताया है कि वर्तमान में पंचायत चुनाव के दौरान उनके द्वारा कुरैया सीट पर भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार किया गया। चुनावों में उन्होंने सभी क्षेत्रों में पार्टी के लिए प्रचार किया।

यह भी पढ़ें: भाजपा ने अपने विधायकों को पढ़ाया अनुशासन का पाठ

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस