संवाद सूत्र, चकराता: गुरुवार को विजयादशमी के अवसर पर छावनी बाजार चकराता के आर्य समाज मंदिर में शस्त्र पूजन किया गया। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के जिला प्रचारक प्रभात ने संघ परिवार की रीति-नीति के बारे में अवगत कराया।

कोरोना के चलते छावनी बाजार चकराता में विजयादशमी का पर्व सादगी के साथ मनाया गया। संघ परिवार की ओर से आर्य समाज मंदिर में विजयादशमी के अवसर पर शस्त्र पूजन किया गया। इस दौरान संघ के जिला प्रचारक ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्रियाकलापों के बारे में जानकारी दी। कहा कि, विजयादशमी का पर्व अधर्म पर सत्य की जीत का प्रतीक है, जो समाज को सही राह पर चलने की सीख देता है। विजयादशमी को आर्य समाज मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक प्रभात व आर्य समाज मंदिर के प्रधान तीरथ कुकरेजा के नेतृत्व में संघ परिवार के सदस्यों ने शस्त्र पूजन किया। इस दौरान संघ परिवार की रीति-नीति के बारे में बताया गया। साथ ही पर्व की महत्ता पर प्रकाश डाला। कोरोना के चलते दशहरा पर्व पिछले दो साल से उस उत्साह के साथ नहीं मनाया जा सका, जिसके लिए वह जाना जाता है। वक्ताओं ने कहा कि दशहरा पर्व समाज को धर्म की रक्षा व सत्य के मार्ग पर आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। इससे समाज में खुशहाली का वातावरण बनेगा। इस मौके पर वरिष्ठ भाजपा नेता विवेक अग्रवाल, संघ के नेता विक्रम चौहान, व्यवस्था प्रमुख कुंदन सिंह, प्रधानाचार्य नरदेव सिंह, जयपाल सिंह, मोनित दुसेजा, प्रदीप तोमर, आशीष जोशी, विशन थापा, विद्या दत्त जोशी व नीरज नौटियाल आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran