देहरादून, राज्य ब्यूरो। बुधवार को अल्मोड़ा में होने जा रही त्रिवेंद्र कैबिनेट की बैठक में अल्मोड़ा को सरकार सौगात देने की तैयारी कर रही है।

सरकार अल्मोड़ा के आवासीय विश्वविद्यालय का नामकरण स्व. सोबन सिंह जीना के नाम पर कर सकती है। इसके अलावा कैबिनेट में जल नीति, खनन नीति, होम स्टे नीति के साथ ही राजस्व, समाज कल्याण, सिंचाई एवं महिला सशक्तीकरण विभाग से संबंधित विषयों पर चर्चा प्रस्तावित है। प्रदेश भाजपा सरकार की अहम कैबिनेट बैठक बुधवार को अल्मोड़ा में आयोजित की जा रही है। यह बैठक जीबी पंत राजकीय हिमालयी पर्यावरण शोध एवं सतत विकास संस्था, कोसी कटारमल में होगी। 

माना जा रहा है कि इस बैठक में अल्मोड़ा आवासीय विश्वविद्यालय का नामकरण करने के साथ ही इसे संबद्धता देने के लिए अधिकृत किया जा सकता है। ऐसा करने से अल्मोड़ा के आसपास के राजकीय डिग्री कॉलेजों को इससे संबद्ध किया जा सकेगा। इससे कुमाऊं विश्वविद्यालय पर कुछ भार कम हो सकता है। बैठक में उत्तराखंड की अपनी जल नीति पर भी चर्चा की जा सकती है। सिंचाई विभाग द्वारा तैयार इस नीति में जल संरक्षण के पारंपरिक तरीकों को शामिल करने के साथ ही जलस्रोतों को पुनर्जीवित करने पर फोकस रखा गया है। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड पंचायत चुनावः कांग्रेस ने निर्दलीयों पर फिर ठोका दावा

इसके साथ ही प्रदेश में होमस्टे के लिए भवन का पुनर्निर्माण और मरम्मत कार्य के लिए ऋण लेने को लैंड यूज बदलने में राहत देने और ऋण लेते समय जमीन को बंधक रखते को सात प्रतिशत स्टांप ड्यूटी को माफ करने संबंधी पर्यटन विभाग का प्रस्ताव भी बैठक में आ सकता है। खनन को लेकर आ रही दिक्कतों को देखते हुए इसमें संशोधन के संबंध में भी बैठक में चर्चा की जानी प्रस्तावित है। 

यह भी पढ़ें: क्लेमेनटाउन कैंट के उपाध्यक्ष सुनील कुमार ने थामा भाजपा का दामन

बजुर्गों को आंगनबाड़ी केंद्रों के जरिये एक समय का भोजन दिए जाने के संबंध में भी कैबिनेट में चर्चा संभावित है। आंगनबाड़ी केंद्रों के जरिये सुगंधित मीठा दूध वितरित करने का प्रस्ताव भी कैबिनेट में आ सकता है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में यह बैठक बुधवार सुबह 11 बजे शुरू होगी।

यह भी पढ़ें: रुड़की नगर निगम के चुनाव 22 नवंबर को, शासन ने जारी की अधिसूचना

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप