राज्य ब्यूरो, देहरादून: कृषि और इससे जुड़े क्षेत्रों को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) की तर्ज पर राज्य में मुख्यमंत्री कृषि विकास योजना (सीएमकेवीवाई) को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। इसके लिए 15 करोड़ का प्रविधान किया है। इससे राज्य में कृषि एवं इससे जुड़े क्षेत्रों के लिए अवस्थापना सुविधाओं का विकास होगा तो किसानों को भी लाभ मिलेगा, जो उनकी आय दोगुना करने की दिशा में मददगार साबित होगा। इसके साथ ही कृषि क्षेत्र में लोगों को स्वरोजगार के लिए भी उन्मुख किया जा सकेगा।

कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों के अधिक समग्र एवं समेकित विकास को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सीएमकेवीवाई लाई गई है। कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के अनुसार योजना में प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन, कीटप्रबंधन व कीटनाशक गुणवत्ता नियंत्रण, मृदा पोषक तत्व प्रबंधन, बीज विकास, कृषि मशीनीकरण, कलेक्शन सेंटर, कोल्ड स्टोर आदि पर फोकस किया जाएगा। कृषि से संबद्ध क्षेत्रों पशुपालन, गोटपालन, डेयरी समेत अन्य को भी बढ़ावा देकर स्वरोजगार के अवसर खुलेंगे। योजना के तहत केंद्र व राज्य सरकारों की योजनाओं के बीच गैप फिलिंग भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में कृषि की तस्वीर संवारने की दिशा में यह योजना अहम साबित होगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस