जागरण संवाददाता, देहरादून। महिला को भूमि (प्लॉट) खाली करने की धमकी देने वाले हिस्ट्रीशीटर जितेंद्र सिंह उर्फ जित्ती को रायपुर थाना पुलिस ने उसके पांच साथियों के साथ देहरादून के रेसकोर्स क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। कुछ दिन पहले ही जित्ती हत्या के मामले में जेल से जमानत पर बाहर आया था। अब वह हरियाणा के बदमाशों के साथ गिरोह बनाकर विवादित भूमि पर कब्जे की योजना बना रहा था। आरोपितों से दो कार भी बरामद की गई हैं।

थानाध्यक्ष रायपुर दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि आठ अप्रैल को आरती कुमारी निवासी बल्लूपुर रोड ने थाने में तहरीर दी थी। उन्होंने बताया था कि उनका एक प्लॉट रिंग रोड स्थित लाडपुर में है। तीन अप्रैल को जब वह प्लॉट पर देखरेख करने गई तो उसी समय आरोपित जित्ती अपने कुछ साथियों के साथ वहां आया और उसे प्लॉट खाली करने की धमकी दी। तब आरती घर चली गई। सात अप्रैल को जब वह प्लॉट पर चहारदीवारी का निर्माण करवा रही थीं तो जित्ती अपने कुछ साथियों के साथ वहां पहुंचा और चहारदीवारी को क्षतिग्रस्त करके चला गया। आरोप है कि जित्ती ने महिला को एक बीघा भूमि अपने नाम करने को कहा। ऐसा न करने पर उसने हत्या करने की धमकी दी। आरती की तहरीर पर पुलिस ने जित्ती और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। थानाध्यक्ष नेगी ने बताया कि जितेंद्र रावत उर्फ जित्ती निवासी रिंग रोड के साथ उसके साथी नवीन कुमार निवासी किवाना जिला पानीपत हरियाणा, शीशपाल सैनी निवासी इंदिरा कॉलोनी पंचकूला हरियाणा, प्रशांत निवासी गोविंदपुरी वाल्मीकि बस्ती यमुनानगर हरियाणा, हनी वर्मा निवासी इंदिरा कॉलोनी अंबाला सिटी हरियाणा और गुरु लाल सिंह निवासी कामी खुर्द जिला पटियाला पंजाब को गिरफ्तार कर लिया।

जेल से बाहर आते ही बना लिया गिरोह

थानाध्यक्ष दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि जित्ती नेहरू कॉलोनी थाने का हिस्ट्रीशीटर है, जो कि कुछ दिन पहले जमानत पर बाहर आया था। इस दौरान उसने एक गिरोह तैयार कर लिया। जिसमें हरियाणा के कुछ शातिर भी शामिल हैं। गिरोह देहरादून में विवादित भूमि को चिह्नित कर रहा था। इसके बाद आरोपित भूमि के स्वामियों को धमकाकर उनकी भूमि पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे थे। जित्ती का एक साथी नवीन कुमार पंचकूला से हिस्ट्रीशीटर एवं शातिर अपराधी है, जिसके खिलाफ हत्या, लूट, फिरौती के पंचकूला में कई मुकदमे दर्ज हैं। 

राजू बॉक्सर की कार कर रहा था इस्तेमाल 

थानाध्यक्ष ने बताया कि जित्ती से जो कार बरामद हुई है, वह राजू बॉक्सर की है। राजू बॉक्सर की कुछ दिन पहले ही नेहरू कालोनी क्षेत्र में हत्या हुई थी। राजू की हत्या के बाद जमानत पर छूटने के बाद जित्ती ने यह कार अपने भय के दम पर अपने पास रख ली। 

यह भी पढ़ें-विधायक महेश नेगी को पांच मई तक कोर्ट से राहत, महिला से दुष्कर्म और बच्ची के डीएनए टेस्ट का है

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप