जागरण संवाददाता, देहरादून। जो चले गए उनकी कमी को तो पूरा नहीं किया जा सकता, मगर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना कर सुकून जरूर मिल सकता है। जो कोरोना संक्रमित हैं, उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना भी जरूरी है। दैनिक जागरण की ओर से इसी विचार के साथ सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन किया जा रहा है। कोरोनाकाल में जान गंवाने वाले व्यक्तियों की आत्मा को श्रद्धांजलि देने, संक्रमितों के जल्द स्वस्थ होने की कामना और कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाने के लिए सर्वधर्म प्रार्थना का कारवां निरंतर बढ़ रहा है। अब इस कड़ी में शिक्षाविद, स्कूल और कुलपति भी जुड़ गए हैं। इनकी ओर से फेसबुक, ट्विटर आदि माध्यम से नियत तिथि व समय पर अपनी जगह पर प्रार्थना करने की अपील की जा रही है।

  • जितेंद्र जोशी (कुलाधिपति, उत्तरांचल विश्वविद्यालय) का कहना है कि कोरोना महामारी ने हमें बड़ी क्षति पहुंचाई है, लाखों लोग की जान चली गई। उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करना एक बेहतर पहल है। साथ ही मानव जीवन की सेवा में लगातार जुटे कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाना भी जरूरी है। हमें अस्पताल में भर्ती मरीजों के जल्द स्वस्थ होने की कामना के साथ ईश्वर से प्रार्थना करनी है। हम सभी को इसके लिए सर्वधर्म प्रार्थना में शामिल होना चाहिए।
  • पीपी ध्यानी (कुलपति, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय) का कहना है कि कोरोना से दिवंगत जन की आत्मशांति के लिए दैनिक जागरण की सर्वधर्म प्रार्थना सभा का मैं स्वयं हिस्सा बनूंगा। कोरोना काल में डाक्टर, नर्स, पुलिस कर्मियों व वालंटियर ने खुद की परवाह किए बगैर मानवता की सेवा की। दैनिक जागरण की मुहिम से जुड़कर ऐसे व्यक्तियों का हौसला बढ़ाएं।
  • दिग्विजय सिंह चौहान (प्रदेश अध्यक्ष, प्राथमिक शिक्षक संघ) का कहना है कि कोरोना योद्धाओं के हौसले को बढ़ाने के लिए दैनिक जागरण की ओर से आयोजित सर्वधर्म प्रार्थना में सभी को शामिल होना चाहिए। कोरोना काल में कई व्यक्तियों की मृत्यु से असहनीय पीड़ा हुई है। कई लोग ने अपने प्रियजनों को खोया है। बहुत लोग अभी भी इस महामारी से लड़ रहे हैं। आइए सब साथ मिलकर प्रभु से प्रार्थना करें कि जो लोग इस बीमारी से लड़ रहे हैं उन्हें शीघ्र स्वास्थ्य लाभ मिले।
  • डा. सोहन सिंह माजिला (प्रदेश महामंत्री, राजकीय शिक्षक संघ) का कहना है कि दैनिक जागरण की सर्वधर्म प्रार्थना वर्तमान समय के लिहाज से बेहतर पहल है। इस वक्त देश में कोरोना के कारण जान गंवा चुके लोग को श्रद्धांजलि देने, इलाज करवा रहे प्रियजनों को हिम्मत और संबल प्रदान करने के लिए इससे बेहतर तरीका और कोई नहीं। सभी से अपील है कि वह इस मानवतावादी कार्यक्रम से अवश्य जुड़े।
  • प्रोफेसर सुरेखा डंगवाल (कुलपति, दून विश्वविद्यालय) का कहना है कि दैनिक जागरण की सर्वधर्म प्रार्थना की पहल देश, समाज व मानवता के लिए बेहतर पहल है। यह समय कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाने और कोरोना से जान गंवा चुके व्यक्तियों की श्रद्धांजलि देने का है। प्रदेश के सभी व्यक्तियों से अपील है कि सर्वधर्म प्रार्थना में शामिल होकर कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाएं।
  • सतीश घिल्डियाल (प्रदेश कोषाध्यक्ष, प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ) का कहना है कि कोरोना संक्रमण ने कई घरों के चिराग व परिवार का सहारा छीन लिए। उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए दैनिक जागरण ने बेहतर पहल की है। इसके साथ ही कोरोना काल में फ्रंट लाइन में खड़े होकर जंग लड़ने वालों की हौसला अफजाई भी जरूरी है। हम सभी को सर्वधर्म प्रार्थना में शामिल होना चाहिए।
  • कर्नल (सेनि.) जसविंदर सिंह (प्रधानाचार्य, समर वैली स्कूल) का कहना है कि कोरोना से जंग लड़कर आम लोग की रक्षा कर रहे फ्रंट लाइन वारियर्स की हौसला अफजाई और कोरोना महामारी से जान गंवा चुके व्यक्तियों को श्रद्धांजलि देने के लिए दैनिक जागरण ने बेहतर पहल की है। सभी से अपील की गई है कि वह 14 जून को सुबह 11 बजे अपने घरों, कार्यालयों, दुकान आदि जगहों से दो मिनट मौन रखकर ईश्वर से मृत आत्माओं की शांति और कोरोना संक्रमितों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करें।

यह भी पढ़ें-खिलाड़ी और कारोबारियों ने भी जोड़े हाथ, 14 जून को सुबह 11 बजे किया जाएगा प्रार्थना सभा आयोजन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi