देहरादून, जेएनएन। आम आदमी पार्टी (आप) ने प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर सरकार पर सवाल उठाए हैं। आप के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर ने कहा कि प्रदेश सरकार इन दिनों पूरी तरह लॉक दिखाई दे रही है। यह भी सरकार को नहीं दिख रहा कि संक्रमण के चलते कई महकमों में ताले लगे हुए हैं। आरोप है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की गलत नीतियों के चलते कोरोना सूबे की जनता के लिए जानलेवा साबित होता जा रहा। 

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस प्रदेश का मुखिया हर तीसरे दिन होम आइसोलेशन में जाकर कुंभकर्णी नींद में चला जाता हो, ऐसे प्रदेश के हालात बदतर होंगे ही। कलेर ने मुख्यमंत्री से पूछा कि कहा है वो तैयारी जिसका ढिंढोरा हर समय मुख्यमंत्री पीटते रहे हैं। हवाई किले बनाने वाली त्रिवेंद्र सरकार की जमीनी हकीकत की पोल खुल चुकी है और अब सरकार बेबस है। यह स्थिति तब है जब प्रदेश के मुखिया के पास प्रशासनिक अमला है और स्वास्थ्य विभाग खुद उनके पास है। 
कलेर ने कहा कि आप ने दिल्ली में जो कर दिखाया और महामारी पर कंट्रोल किया, उसमें उत्तराखंड के सीएम क्यों फेल हो रहे हैं। प्रदेशभर में कोरोना से मौतों का आकड़ा चार सौ तक पहुंचने वाला है और छह प्रतिशत संक्रमण की दर से वृद्धि होती जा रही। 
सूबे में हेल्पलाइन सेवाएं नदारद 
आप के प्रदेश प्रवक्ता रविंद्र आनंद ने कोरोना काल में प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं और उससे जुड़े हेल्पलाइन नंबरों के हालात पर राज्य सरकार को घेरते हुए इन सेवाओं को हवा-हवाई बताया है। आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री न तो स्वास्थ्य सेवाएं चला पा रहे हैं और न ही विभागीय अफसर हेल्पलाइन नंबर से जनता से जुड़ पा रहे हैं। हेल्पलाइन नंबर कागजों और विज्ञापन तक सीमित होने का आरोप उन्होंने लगाया है। आरोप है कि यदि हेल्पलाइन से कोई जानकारी चाहिए तो आधे से ज्यादा नंबर लगते ही नहीं हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस