देहरादून, केदार दत्त राष्ट्रीय नदी गंगा की स्वच्छता एवं निर्मलता के लिए उत्तराखंड में चल रही नमामि गंगे परियोजना अगले साल हरिद्वार में होने वाले कुंभ में सहभागी बनने जा रही है। कुंभ के दौरान भी गंगा साफ-सुथरी बनी रहे, इसके लिए राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) से नमामि गंगे में राज्य को 300 करोड़ की धनराशि मिल सकती है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर शासन ने इस संबंध में प्रस्ताव एनएमसीजी को भेज दिया है। अपर सचिव एवं राज्य में नमामि गंगे परियोजना के कार्यक्रम निदेशक उदयराज सिंह ने इसकी पुष्टि की।

केंद्र सरकार का फोकस गंगा समेत अन्य नदियों को स्वच्छ निर्मल बनाए रखने पर है। इस क्रम में गंगा की स्वच्छता व निर्मलता के लिए एनएमसीजी के तहत चल रही नमामि गंगे परियोजना में उत्तराखंड भी शामिल है। परियोजना के अंतर्गत गोमुख व बदरीनाथ से लेकर हरिद्वार तक गंगा से सटे 15 शहरों, कस्बों में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) निर्माण और गंदे नालों की टैपिंग पर फोकस किया गया है। इनमें से अधिकांश कार्य पूरे हो चुके हैं और इसका असर गंगाजल की गुणवत्ता पर दिखने भी लगा है।अब नमामि गंगे परियोजना अगले साल हरिद्वार में होने वाले कुंभ में भी सहभागिता निभाने जा रही है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कुंभ की तैयारियों की समीक्षा बैठक के दौरान कुंभ में नमामि गंगे का सहयोग लेने के मद्देनजर मेलाधिकारी को प्रस्ताव तैयार के निर्देश दिए थे। मेलाधिकारी से यह प्रस्ताव मिलने के बाद शासन स्तर पर इसका परीक्षण किया गया और फिर इसे एनएमसीजी को भेज दिया गया।

यह भी पढ़ें: रात्रि विश्राम स्थल 'बासा' में सुनिए 'आदमखोर' के हैरतअंगेज किस्से, तो चले आइए और करिए रोमांच का अनुभव

सूत्रों के मुताबिक एनएमसीजी ने प्रस्ताव पर मंथन शुरू कर दिया है और इस पर करीब-करीब सहमति भी बन चुकी है। उम्मीद है कि जल्द ही यह धनराशि कुंभ के लिए मिल जाएगी। इससे कुंभ की तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटी राज्य सरकार को काफी राहत मिलेगी। सूत्रों ने बताया कि नमामि गंगे में कुंभ के लिए मिलने वाली इस धनराशि से कुंभ मेला क्षेत्र में कूड़ादान, मूत्रालय, सेप्टिक टैंक, पेयजल व सीवरेज से संबंधित पंपिंग स्टेशनों की क्षमता वृद्धि समेत अन्य कार्यों पर व्यय किया जाएगा। इससे कुंभ के दौरान कूड़ा-कचरा व गंदगी गंगा में जाने से रोकने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें: संघर्ष से तपकर चमक बिखेरने को तैयार 19 साल की भागीरथी, ये अंतरराष्ट्रीय एथलीट दिखा रहे राह

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस