राज्य ब्यूरो, देहरादून। Tokyo Paralympics उत्तराखंड सरकार टोक्यो पैरालिंपिक में कांस्य पदक जीतने वाले पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी मनोज सरकार को 50 लाख रुपये और राजपत्रित नौकरी देगी। ओलिंपिक खेलों की महिला हाकी प्रतियोगिता में हैट्रिक लगाने वाली वंदना कटारिया को पांच लाख रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।

खेल एवं युवा कल्याण मंत्री अरविंद पांडेय ने बुधवार को विभागीय बैठक में इसकी घोषणा की। टोक्यो पैरालिंपिक में मनोज सरकार ने एसएस-थ्री कैटेगरी की बैडमिंटन प्रतियोगिता में कांस्य पदक अपने नाम किया था। प्रदेश की वर्ष 2014 में जारी खेल नीति में पैरालिंपिक में कांस्य पदक जीतने वाले खिलाड़ी को 50 हजार रुपये देने की व्यवस्था थी। वहीं, ओलिंपिक में कांस्य जीतने वाले को 50 लाख रुपये की व्यवस्था है।

पैरालिंपिक खेलों में राज्य को मिली पहली सफलता पर खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने प्रदेश सरकार की ओर से ओलिंपिक की भांति ही पैरालिंपिक में पदक जीतने वाले मनोज सरकार को 50 लाख रुपये के साथ ही समूह ख के अंतर्गत राजपत्रित नौकरी देने की भी घोषणा की। कैबिनेट मंत्री ने बैठक में अधिकारियों को प्रदेश में खेल व खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए संशोधित की जा रही उत्तराखंड खेल नीति 2020 में दो और बिंदु जोडऩे के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में युवा प्रतिभाओं को बढ़ावा देने के लिए हर जिले में 100-100 बालक और बालिकाओं का चयन कर उन्हें छात्रवृत्ति देने का प्रविधान किया जाए। इसके साथ ही प्रदेश में खिलाड़ियों को सामान्य डाइट के लिए मिलने वाले 175 रुपये के साथ ही एक्सट्रा न्यूट्रिएंटस फूड डाइट की व्यवस्था भी की जाए। इस दौरान उन्होंने खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए समय-समय पर खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन कराने और खेलों की अवस्थापना सुविधाओं को विकसित करने के निर्देश दिए। बैठक में सचिव व निदेशक खेल एसए मुरुगेशन समेत विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें- Tokyo Paralympics: मनोज सरकार को 11 लाख देगा ग्राफिक एरा, पैरा ओलिंपिक में जीता कांस्य पदक

Edited By: Raksha Panthri