जागरण संवाददाता, ऋषिकेश :

अस्पताल से निकलने वाले बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण के लिए एक तय प्रक्रिया निर्धारित है। इसका उल्लंघन करना अपराध है। मगर, इसके बावजूद कुछ निजी नर्सिंग होम और क्लीनिक संचालक जंगल में खुले स्थानों पर मेडिकल वेस्ट फेंककर आम जन और वन्य जीवों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं।

तीर्थनगरी ऋषिकेश का चारों ओर का क्षेत्र जंगल से सटा हुआ है। यह जंगल भी जंगली जानवरों के बाहुल्य क्षेत्र व जैव विविधता से भरपूर हैं। मगर, कुछ नर्सिंग होम व क्लीनिक संचालकों को वन्य जीवों और आम जन के स्वास्थ्य से कोई सरोकार नहीं हैं। ऋषिकेश-देहरादून मार्ग पर रेलवे अंडर ब्रिज के पास लंबे समय से कुछ अज्ञात नर्सिंग होम व क्लीनिक संचालक मेडिकल वेस्ट खुले में फेंक रहे हैं। पूर्व में भी बड़ी मात्रा में वन विभाग और रोटरी क्लब ने यहां स्वच्छता अभियान चलाकर इस मेडिकल वेस्ट का निस्तारण किया था। मगर, अब एक बार फिर यहां सड़क के किनारे खाली जगह में बड़ी मात्रा में मेडिकल बेस्ट फेंका गया है। जिसमें बड़ी मात्रा में इंजेक्शन, सीरिंज , वैक्सीन व दवाइयां शामिल हैं।

जिस स्थान पर यह मेडिकल वेस्ट फेंका जा रहा है, वह स्थान ठीक सड़क के किनारे लगा है, जहां आम नागरिकों के अलावा पालतू जानवर और वन्य जीवों का विचरण भी लगा रहता है। ऐसे में यह मेडिकल बेस्ट किसी के भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

---------

खतरनाक है बायो मेडिकल वेस्ट

अस्पताल से निकलने वाले अपशिष्ट पदार्थों से होने वाले खतरों को टाला जा सके, इसके लिए बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट रुल्स 2016 में एक निर्धारित प्रक्रिया तय की गई है। सभी बड़े अस्पताल व नर्सिंग होम से बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण के लिए बड़ी एजेंसियों से करार करते हैं। यह एजेंसियां बायो मेडिकल वेस्ट एकत्र कर वैज्ञानिक ढंग से इनका निस्तारण करती हैं। बायो मेडिकल वेस्ट से एचआइवी, हेपटाइटिस, टिटनेस, निमोनिया तथा अन्य तरह के संक्रामक रोगों का खतरा बना रहता है।

------------

जंगल में फेंका जा रहा बायो मेडिकल वेस्ट किसी के लिए भी घातक हो सकता है। हमने पूर्व में यहां फेंके गए बायो मेडिकल वेस्ट का निस्तारण किया था। यहां यह बायो मेडिकल वेस्ट कौन फेंक रहा है, इसका पता नहीं चल पाया है। आगे इस पर नजर रखी जाएगी। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

- एमएस रावत, वन क्षेत्राधिकारी, ऋषिकेश रेंज

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप