जागरण संवाददाता, देहरादून। राज्य में देशी व अंग्रेजी शराब और बियर की दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया के पहले दिन करीब 500 दुकानें आवंटित कर दी गईं। आवंटन की प्रक्रिया देर रात तक जारी थी। वहीं, 100 से अधिक दुकानों के लिए पहले चरण में किसी ठेकेदार ने रुचि नहीं दिखाई। इनका आवंटन आज दूसरे चरण में होने की उम्मीद है।

प्रदेश में देशी व विदेशी शराब और बियर की कुल 622 दुकानें हैं। इस बार इन दुकानों का आवंटन दो साल के लिए ऑनलाइन बिडिंग के माध्यम से किया जा रहा है। बुधवार को देहरादून स्थित नगर निगम सभागार में इन दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया शुरू हुई। इन दुकानों से इस वर्ष के लिए कुल 3200 करोड़ रुपये का राजस्व लक्ष्य रखा गया है। इसमें अकेले देहरादून से 507 करोड़ रुपये की राजस्व वसूली का लक्ष्य हैं।

संयुक्त आबकारी अधिकारी रमेश चौहान ने बताया कि देहरादून में कुल 94 दुकानों का आवंटन किया जाना है। इनमें से 83 दुकानों के लिए आवेदन प्राप्त हुए। ये दुकानें आवंटित कर दी गई हैं। जिन 11 दुकानों के लिए अब तक किसी ठेकेदार ने आवेदन नहीं किया है, उनमें पलटन बाजार व बिंदाल पुल की अंग्रेजी शराब की दुकान और सहसपुर, सेलाकुई, लंढौर मसूरी व हर्रावाला की देशी शराब की दुकान भी शामिल है। वहीं, हरिद्वार में कुल 130 दुकानें हैं। इनमें से 121 दुकानें आवंटित कर दी गई हैं। टिहरी में सभी 26 दुकानें आवंटित कर दी गई हैं। रुद्रप्रयाग में 10 में से आठ, पौड़ी में 42 में से 32, चमोली में 15 में से 14 और उत्तरकाशी में 17 में से 11 दुकानों का पहले चरण में आवंटन किया गया। चंपावत में भी सभी दुकानें आवंटित हो गई हैं। कुमाऊं मंडल में रुद्रपुर और अल्मोड़ा में सबसे कम दुकानों का आवंटन हुआ।

यह भी पढ़ें-हरिद्वार जिले के शहरी क्षेत्रों में स्लाटर हाउस पर लगी पाबंदी

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021