राज्य ब्यूरो, देहरादून। Republic Day Celebration 2021 vs 2020 in Uttarakhand प्रदेश में इस वर्ष होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह में कोरोना को देखते हुए कई कार्यक्रमों में कटौती की गई है। इस वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर वायुसेना के विमान हवाई करतब नहीं दिखाएंगे। इतना ही नहीं झंडारोहण के समय पुष्पवर्षा भी नहीं होगी। सभी कार्यालयों में सुबह साढ़े नौ बजे ध्वज फहराया जाएगा। वहीं, परेड ग्राउंड में गणतंत्र दिवस परेड सुबह साढ़े दस बजे शुरू होगी।

गुरुवार को मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम को लेकर दिशा निर्देश जारी किए। इसके अनुसार कोरोना के मद्देनजर समारोह का आयोजन सुरक्षित शारीरिक दूरी के मानकों को ध्यान में रखकर किया जाएगा। गणतंत्र दिवस की पूर्ण संध्या में इस वर्ष कवि सम्मेलन का आयोजन नहीं किया जाएगा। परेड में राजकीय विद्यालयों के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होंगे। झांकियों की संख्या बेहद सीमित रहेगी। गणतंत्र दिवस समारोह के लिए अधिकतम एक हजार महानुभावों को ही आमंत्रण भेजा जाएगा।

जिलों में प्रभारी मंत्री ही ध्वजारोहण करेंगे। इसके लिए जिलाधिकारी उन्हेंं आमंत्रित करेंगे। प्रभारी मंत्रियों के समारोह में न आने की सूरत में जिलाधिकारी ही ध्वजारोहण करेंगे। सभी जनपदों में स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को उप जिलाधिकारी अथवा उससे उच्च अधिकारी उनके घर जाकर सम्मानित करेंगे। वहीं, सभी सरकारी भवनों को 25 व 26 जनवरी को शाम छह से रात 11 बजे तक प्रकाशमान किया जाएगा। प्रदेश के प्रमुख चौराहों पर 25 जनवरी शाम छह से रात नौ बजे तक और 26 जनवरी को सुबह छह बजे से 11 बजे तक लाउडस्पीकर के माध्यम से देशभक्ति के गीतों का प्रसारण होगा। 

यह भी पढ़ें-Republic Day Celebration 2021 vs 2020 in Uttarakhand: गणतंत्र दिवस पर आठ प्लाटून ही लेंगी मार्च पास्ट में हिस्सा

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप