देहरादून, जेएनएन। Uttarakhand Weather Update उत्तराखंड में मानसून तीव्र बौछारों के साथ अगले सप्ताह तक विदाई ले सकता है। मौसम विभाग ने 23 और 24 सितंबर को प्रदेश के कुछ जिलों में भारी बारिश की आशंका जताई है। वहीं, मंगलवार सुबह देहरादून समेत कई जिलों में हल्की बारिश हुई।

पिछले कई दिनों से उत्तराखंड में मानसून की रफ्तार सुस्त है। अंतिम चरण में पहुंचने के बावजूद मानसून की बारिश सामान्य से काफी कम है। हालांकि, अगले कुछ दिन कहीं-कहीं तेज बौछारों के साथ भारी बारिश हो सकती है। कुमाऊं में नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हुई। जबकि, देहरादून में दिनभर धूप खिली रही। तापमान में उछाल के कारण उमस भी परेशान करती रही। मुक्तेश्वर का अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री अधिक रिकॉर्ड किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक, अगले तीन दिन देहरादून, पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। जबकि, धारचूला और आसपास के कुछ इलाकों में ओलावृष्टि होने की संभावना बन रही है। 

सड़क किनारे टूटी नालियों से दुर्घटना का खतरा

चंबा के बुरांशवाड़ी से जिला मुख्यालय को जोडऩे वाली सड़क के किनारे बनी नालियां लंबे समय से खराब स्थिति में है। नालियों का पानी सड़क पर बहता रहता है। बरसात में सबसे ज्यादा परेशानी होती है, जिससे आवागमन में दिक्कत होती है। इस समस्या को लेकर स्थानीय निवासियों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपा।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड में मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट, इन पांच जिलों में भारी बारिश के आसार

स्थानीय निवासियों का कहना है कि चंबा के बुरांशवाड़ी क्षेत्र में सड़क किनारे बनी नालियों के रखरखाव पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है, जिससे नालियों की स्थिति काफी खराब है। यह सड़क जिला मुख्यालय को भी जोड़ती है, इसके बावजूद इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। स्थानीय निवासियों का कहना है कि नालियों की मरम्मत नहीं होने से पानी सड़क पर बहता रहता है, जिससे सड़क की स्थिति खस्ताहाल बनी है और लोगों को आवागमन में भी परेशानी होती है। उन्होंने लोनिवि देहरादून के अधिशासी अभियंता को नालियों की स्थिति सुधारने को निर्देशित करने की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में सभासद शक्ति प्रसाद जोशी, एसआरटी परिसर के छात्रसंघ महसचिव अदित्य भट्ट, आदर्श भट्ट, प्रदीप सकलानी आदि शामिल थे।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Weather Update: मानसून के अगले सप्ताह विदा होने के आसार

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस