देहरादून, जेएनएन। Uttarakhand Coronavirus News Update उत्‍तरखंड में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। हालांकि शनिवार के मुकाबले रविवार का दिन राहतभरा रहा। रविवार को राज्‍य में कोरोना के 230 नए मामले आए, जबकि 171 स्‍वस्‍थ्‍य हुए। वहींं आठ कोरोना संक्रमितों की मौत हुई। सबसे ज्‍यादा मामले 127 हरिद्वार से आए। इसके अलावा 34 देहरादून, 19 ऊधमसिंह नगर, 16 नैनीताल, 11टिहरी, आठ रुद्रप्रयाग, सात चंपावत, चार उत्‍तरकाशी, तीन पौड़ी से मामले आए, जबकि एक मामला चमोली से आया।  वहीं, अबतक राज्‍य में 9631 मामले पॉजीटिव आए हैं, जिनमें से 6134 ठीक हो चुके हैं। 3334 मामले एक्टिव हैं, जबकि 125 की मौत हो चुकी है। वहीं, 39 राज्‍य से बाहर जा चुके हैं।  

ऋषिकेश एम्‍स में तीन कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत 

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती ऋषिकेश में रविवार को तीन और कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। इनमें दयाल कॉलोनी सहारनपुर निवासी 75 वर्षीय महिला, मुरादाबाद उत्तर प्रदेश निवासी 37 वर्षीय महिला और टेम्ना रुद्रप्रयाग निवासी 61 वर्षीय पुरुष शामिल है। 24 घंटे में एम्स में चार संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। एम्स में 24 घंटे के भीतर 26 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें नौ स्थानीय व्यक्ति शामिल हैं।

इससे पहले विभिन्न गंभीर बीमारियों से ग्रसित एक कोरोना संक्रमित महिला की मौत हो गई। जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि इंदिरा नगर आम पड़ाव कोटद्वार निवासी इस महिला को देहरादून के एक प्राइवेट हॉस्पिटल से दो दिन पहले यहां लाया गया था। महिला की हालत काफी गंभीर थी। 55 वर्षीय इस महिला की शनिवार को मौत हो गई। स्थानीय प्रशासन को इसकी सूचना दी गई है। वहींं, राजभवन की एक अधिकारी कोरोना संक्रमित पाई गई हैं, जिसके चलते राजभवन सोमवार को बंद रहेगा। रविवार को राजभवन को सैनिटाइज किया गया। कोरोना संक्रमित ये अधिकारी बीती 31 जुलाई से राजभवन नहीं आ रही थी।

महिला चिकित्सक समेत दो पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव 

हरिद्वार जिले के रुड़की क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीजों का मिलना जारी है। रविवार को सिविल हॉस्पिटल की एक महिला चिकित्सक और भगवानपुर के दो पुलिसकर्मियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।

बीआरओ के मुख्य अभियंता और पत्नी समेत 16 की रिपोर्ट पॉजिटिव 

सीमा सड़क संगठन शिवालिक परियोजना वीरभद्र ऋषिकेश के मुख्य अभियंता और उनकी पत्नी सहित 16 व्यक्तियों की एम्स ऋषिकेश में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। नर्सिंग ऑफिसर समेत चार स्थानीय लोग भी शामिल है। बीआरओ के मुख्य अभियंता आशु सिंह राठौर और उनकी पत्नी अपनी पुत्री को फिरोजाबाद छोड़ने गए थे। शुक्रवार को यह दोनों यहां लौटे और जांच कराने एम्स की ओपीडी में गए थे। जहां उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोनों को एम्स में भर्ती किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ सुपरवाइजर एसएस यादव ने बताया कि इस अधिकारी के आइडीपीएल बीआरओ मुख्यालय में संपर्क में आने वाले व्यक्तियों का पता किया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को 6707 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिनमें 6206 रिपोर्ट नेगेटिव और 501 पॉजिटिव हैं। चौबीस घंटे के दौरान हरिद्वार में सबसे अधिक 172 मरीज मिले हैं। ऊधमसिंहनगर में 171 लोग संक्रमित मिले। फ्लू क्लीनक में जांच कराने पहुंचे आठ की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। नैनीताल में कोरोना संक्रमण के 85 नए मामले सामने आए हैं। देहरादून में 38 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बागेश्वर में सेना के 10 जवान संक्रमित मिले हैं। पौड़ी में नौ लोग संक्रमित पाए गए। इनमें छह की ट्रेवल हिस्ट्री पता की जा रही है। तीन अन्य संक्रमितों के संपर्क में आए लोग हैं। उत्तरकाशी में पांच, टिहरी में चार, पिथौरागढ़ में तीन, रुद्रप्रयाग में दो और चमोली और चंपावत में एक-एक कोरोना संक्रमित मिला है।

इस बीच, प्रदेश में आठ मरीजों की मौत हो गई। दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित पांच मरीजों की मौत हुई है। इनमें दून के ठाकुरपुर, प्रेमनगर निवासी 62 वर्षीय महिला की शुक्रवार देर रात मौत हो गई। विकासनगर निवासी 37 वर्षीय युवक ने भी शुक्रवार रात दम तोड़ दिया। भाऊवाला निवासी 45 वर्षीय संक्रमित की शनिवार सुबह मौत हो गई। इसके अलावा रायपुर रोड निवासी 56 वर्षीय एक महिला, इन्दर रोड निवासी 75 वर्षीय महिला ने दून मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। एम्स ऋषिकेश में भी 76 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में ऊधमसिंहनगर निवासी 85 वर्षीय और किच्छा निवासी 68 वर्षीय संक्रमित ने शनिवार देर रात दम तोड़ दिया।

दून में डॉक्टर समेत 38 संक्रमित

दून में कोरोना का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। शनिवार को भी यहां 38 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें सेना के दो जवान और एक चिकित्सक भी शामिल हैं। जिले में अब तक कोरोना के 1997 मामले आ चुके हैं। जिनमें 1552, यानि करीब 78 फीसद मरीज स्वस्थ हो गए हैं।

सीएमओ डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि दून में जिन 38 लोग में कोरोना की पुष्टि हुई है, उनमें सेना के दो जवान भी शामिल हैं। ये दोनों अलग-अलग शहरों से लौटकर आए हैं। इसके अलावा दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के बाल रोग विभाग के एक चिकित्सक भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वहीं एम्स ऋषिकेश से 15 लोग की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। निजी लैब में जांच कराने वाले 10 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं, जिनकी ट्रेवल हिस्ट्री पता की जा रही है। सभी मरीजों को अस्पतालों में शिफ्ट कराया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में भी होम आइसोलेशन की व्यवस्था होगी शुरू, जल्द होगी गाइडलाइन जार

एक कंटेनमेंट जोन बना, एक खत्म

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच शनिवार को एक नया कंटेनमेंट जोन बना, जबकि एक क्षेत्र को इससे बहाल कर दिया गया। इसके चलते कंटेनमेंट जोन की कुल संख्या सात ही है। जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के आदेश के मुताबिक, विकासनगर क्षेत्र के ग्राम डाकपत्थर के वार्ड-10 स्थित शिवपुरी में नया कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। पाबंद किए गए क्षेत्र से अगले आदेश तक कोई भी बाहरी व्यक्ति नहीं जा पाएगा। दैनिक जरूरत की सभी वस्तुओं की आपूर्ति प्रशासन मोबाइल वैन के जरिए करेगा। उधर, कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने न आने के बाद विकासनगर क्षेत्र के ही वॉर्ड-10 स्थित दिनकर विहार कंटेनमेंट जोन समाप्त कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: कोतवाली रुड़की के इंस्पेक्टर समेत 34 में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस