जागरण टीम, देहरादून

अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के शिलान्यास के साथ ही बुधवार को देवभूमि उत्तराखंड भी राममय हो गई। शहर से लेकर सीमांत क्षेत्रों तक दिनभर 'जय श्रीराम' का उद्घोष गुंजायमान होता रहा। चारधाम समेत मठ मंदिरों के साथ ही घरों में अखंड रामायण और सुंदरकांड का पाठ हुआ। सूर्यास्त के बाद घरों में दीप जले तो जगह-जगह जोरदार आतिशबाजी भी हुई। हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर विशेष गंगा आरती हुई तो पौड़ी के फल्स्वाड़ी स्थित सीता मंदिर में 108 दीये जलाए गए। देहरादून में मुख्यमंत्री आवास पर 5100 घी के दीये रोशन किए गए, जबकि हरिद्वार में शांतिकुंज व देवसंस्कृति विवि परिसर में 51 हजार दीप जलाए गए।

अयोध्या में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों श्रीराम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन व शिलान्यास कार्यक्रम को लेकर उत्तराखंड में जबर्दस्त उत्साह रहा। मंगलवार शाम से ही जगह-जगह दीप जलाए गए तो बुधवार को भूमिपूजन कार्यक्रम शुरू होते ही लोग घरों, प्रतिष्ठानों व दफ्तरों में टीवी सेट पर चिपके नजर आए। हर कोई इस ऐतिहासिक क्षण का गवाह बनने को उत्सुक था। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने-अपने आवासों पर राम मंदिर निर्माण के शिलान्यास का सीधा प्रसारण देखा।

चारधाम बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के साथ ही राज्यभर में मठ मंदिरों को आकर्षक ढंग से सजाया गया। मंदिरों के साथ ही घरों में अखंड रामायण व सुंदरकांड का पाठ हुआ। सूर्यास्त के बाद राज्यभर में दीपावली जैसा नजारा था। दीये जलाए गए तो आतिशबाजी भी की गई। फिर चाहे वह चमोली व उत्तरकाशी जिलों की चीन सीमा से सटे गांव हों अथवा पिथौरागढ़ की सरयू घाटी, नेपाल सीमा से सटे झूलाघाट, पीपली, बलुवाकोट व जौलजीबी और चीन सीमा से लगी दारमा, व्यास व चौंदास घाटी के गांव, सभी जगह लोगों ने घरों में दीये रोशन कर खुशियां मनाई।

देहरादून, ऋषिकेश, हल्द्वानी, ऊधमसिंहनगर समेत सभी जगह शहरी क्षेत्रों में जय श्रीराम की गूंज रही। लोगों ने उत्साह के साथ दीप जलाए। सियासी दलों ने भी दीपोत्सव आयोजित किए। भाजपा के प्रदेश से लेकर मंडल स्तर तक कार्यालयों में अयोध्या से सीधा प्रसारण देखा गया। वहां सुंदरकांड का पाठ भी हुआ। भाजपा, कांग्रेस समेत अन्य दलों के कार्यकर्ताओं ने भी जगह-जगह दीप जलाए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस