देहरादून, जेएनएन। एक जालसाज ने खुद को बैंक का कर्मचारी बता सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल से डेबिट कार्ड का नंबर व ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) पूछकर उनके बैंक खाते से एक लाख रुपये उड़ा दिए। इस मामले में नेहरू कॉलोनी थाना पुलिस ने एक व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

थानाध्यक्ष नेहरू कॉलोनी दिलबर नेगी ने बताया कि डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले लेफ्टिनेंट कर्नल रोशन लाल सेना से सेवानिवृत्त हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की डिफेंस कॉलोनी शाखा में उनके दो खाते हैं। बीती दो जून को उनके पास एक शख्स का फोन आया। उसने अपना नाम एके वर्मा और खुद को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की डिफेंस कॉलोनी शाखा का कर्मचारी बताया। आरोपित ने रोशन लाल को उनके डेबिट कार्ड ब्लॉक होने का झांसा दिया और उन्हें दोबारा चालू करने की बात कहते हुए दोनों खातों के डेबिट कार्ड का नंबर पूछ लिया। कुछ देर बाद रोशन लाल के मोबाइल पर दो ओटीपी आए। उन्होंने ओटीपी भी आरोपित को बता दिए। 

यह भी पढ़ें: सेल्समैन को गोली मारने के मामले में पुलिस ने खंगाले 60 कैमरे, बदमाशों का सुराग नहीं

इस घटना के कुछ देर बाद रोशन लाल को शक हुआ तो उन्होंने बैंक मैनेजर को फोन किया और एके वर्मा के संबंध में पूछा। बैंक मैनेजर ने उन्हें बताया कि इस नाम का शाखा में कोई कर्मचारी नहीं है। इस पर रोशन लाल ने तत्काल डेबिट कार्ड ब्लॉक करवाए, लेकिन तब तक ठग दोनों खातों से 99 हजार 678 रुपये उड़ा चुका था। उन्होंने इसकी शिकायत साइबर सेल से की। साइबर सेल की जांच के बाद मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें: 795 बीघा भूमि आइटीबीपी की, खतौनी में नाम किसी और का; जानिए पूरा मामला

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस