देहरादून, जेएनएन। शराब ठेके से कैश लेकर निरंजनपुर आ रहे ठेके के मैनेजर को हथियारबंद बदमाशों ने गोली मार दी। बदमाशों ने कैश लूटने के इरादे से मैनेजर को गोली मारी थी, लेकिन मैनेजर ने बाइक नहीं रोकी, जिससे कैश लूटने से बच गया। शोर मचने पर बदमाश फरार हो गए। प्रेमनगर थाना पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। वहीं, घायल को सिनर्जी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

घटना रात करीब साढ़े आठ बजे की है। शराब ठेके के मैनेजर शंकर सिंह बोहरा दो शराब ठेकों का करीब चार लाख रुपये कैश लेकर निरंजनपुर में ठेके के मालिक को देने आ रहे थे। धूलकोट के जंगल में बाइक सवार बदमाशों ने बाइक से आ रहे मैनेजर को रोकने का प्रयास किया। जब वह तो बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी। शंकर सिंह ने हिम्मत दिखाते हुए बिना बाइक रोके डाट काली मंदिर तक पहुंच गया। भीड़भाड़ वाली जगह पर उसने बाइक रोकी। 
गोली शंकर सिंह के दाएं हाथ के नीचे लगी। गोली चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग घटनास्थल पर पहुंचे, लेकिन तब तक बदमाश फरार हो गए। घायल को इलाज के लिए सिनर्जी अस्पताल लाया गया है। घटना की सूचना मिलते ही प्रेमनगर थाने के एसओ धर्मेंद्र रौतेला घटनास्थल पर पहुंचे। वहीं, कैंट थाने के एसओ संजय मिश्रा भी अस्पताल पहुंचे। पुलिस के अनुसार, शंकर सिंह अभी अस्पताल में भर्ती हैं। पूरे शहर में नाकाबंदी वारदात की सूचना फ्लैश होने के साथ ही पुलिस ने शहर के सभी बाहर निकलने के प्वाइंटों पर चेकिंग शुरू कर दी। 
पुलिस के अनुसार, जिस स्थान पर वारदात हुई, उसके आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। बदमाशों के बारे में कुछ सुराग हाथ लगे हैं, जिनके आधार पर उनकी तलाश की जा रही है। डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि बदमाशों की तलाश में टीमों को लगाया गया है। उन्हें जल्द पकड़ लिया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस