देहरादून, जेएनएन। CBSE Class 12th result 2020 विवेकानंद स्कूल के शालीन ने विपरीत परिस्थितियों के बीच स्कूल में द्वितीय स्थान हासिल कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। सामान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाले शालीन ने अपनी मेहनत और लगन के बूते यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने 92 फीसद अंक हासिल किए हैं। अब वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर तकनीकी जगत में अपनी छाप छोड़ना चाहते हैं। 

कुछ कर गुजरने की दृढ़ इच्छा शक्ति इंसान की विपरीत परिस्थितियों को भी अनुकुल बना देती हैं। ऐसा ही कुछ जज्बा दून के मोहकमपुर निवासी शालीन बड़ोला ने दिखाया है। गरीब परिवार में जन्म लेने के बाद भी सीमित संसाधनों का प्रयोग कर शालीन ने सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा में 92 फीसद अंक लाकर स्कूल में दूसरा स्थान हासिल किया। 

शालीन ने बताया कि वह कक्षा एक से जोगीवाला स्थित विवेकानंद स्कूल में पढ़ रहे हैं। उन्हें पढ़ाई के लिए कभी ट्यूशन की आवश्यकता नहीं पढ़ी। बताया कि कक्षा दस में भी उनके 91 फीसद अंक थे। जिसके चलते उन्हें ग्यारहवीं व बाहरवीं कक्षा के लिए स्कॉलरशिप भी मिली। उन्होंने बताया कि उनकी आर्थिक स्थिति को देख स्कूल में भी उनकी 60 फीसद फीस माफ कर दी थी। शालीन ने बताया कि उनके पिता फोटोग्राफर हैं और माता गृहणी हैं। जब भी उनकों समय मिलता है वह अपने पिता का हाथ बटाते हैं।

इंजीनियरिंग के बजाय दूसरे क्षेत्रों में जाना चाहते हैं मेधावी

12वीं के बाद कॅरियर बनाने के लिए डॉक्टर और इंजीनियरिंग के अलावा भी अन्य क्षेत्र हैं। कुछ इसी सोच के साथ मेधावी अपना कॅरियर को नई दिशा में ले जाना चाहते हैं। मेधावियों का कहना है कि फैशन डिजाइन, प्रशासनिक सेवा में जाना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें: CBSE Class 12th result 2020: केवि और जवाहर नवोदय विद्यालय रिजल्ट में अव्वल

दून वैली इंटरनेशनल स्कूल में 95 फीसद अंक हासिल करने वाली अनुष्का कुकरेती का कहना है कि पिछले तीन सालों से पासआउट छात्रों की सोच डॉक्टर और इंजीनियर बनने की थी। उसी वक्त सोच लिया था कि इससे कुछ अलग करना है, इसलिए मैने फैशन डिजाइन क्षेत्र को चुना। दून इंटरनेशनल स्कूल की छात्र जेनव जैदी ने बताया कि वह देश सेवा में जाना चाहती है, इसलिए शुरू से ही सपना आइएएस बनने का है। इसके अलावा केवि हाथीबड़कला-1 की छात्र प्रभजोत कौर का कहना है कि वह आइएएस बनना चाहती है। इतना ही नहीं, उत्तराखंड से शीर्ष स्थान हासिल करने वाले द टोंस ब्रिज स्कूल के देवज्योति चक्रवर्ती का भी सपना आइपीएस बनने का है।यह भी पढ़ें: Toppers Talk: आइएएस बनाना चाहते हैं प्रदेश के टॉपर देवज्योति चक्रवर्ती

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस