मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देहरादून, राज्य ब्यूरो। कांग्रेस ने उत्तरकाशी के मोरी, आराकोट, डंगोरी और देहरादून के त्यूणी क्षेत्र में आई आपदा के बाद आपदा राहत बचाव कार्य में हुए देरी पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि यदि आपदा पीड़ितों के लिए उचित इंतजाम नहीं किए गए तो कांग्रेस सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन करेगी। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी उत्तरकाशी में राहत बचाव कार्य शुरू न होने पर चिंता जताई है। 

उत्तरकाशी के सीमांत क्षेत्र में बादल फटने से हुई तबाही में हताहत हुए लोगों के प्रति संवेदन प्रकट करते हुए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने सरकार से उन्हें उचित मुआवजा देने के साथ ही परिवारों को सुरक्षित स्थान पर ले जाने की मांग की। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सक्रिय कार्यकर्ताओं को चुनावों में तवज्जो देगी कांग्रेस

उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में लोगों के मन में भय का माहौल है। त्वरित आपदा राहत कार्य न होने से स्थानीय लोगों में आक्रोश है। देहरादून में भी त्यूणी सहित कई इलाकों में खतरे के हालात बने हुए हैं, जिस पर प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने आपदा प्रभावित क्षेत्रों व परिवारों की सुध नहीं ली तो कांग्रेस विरोध प्रदर्शन करेगी। 

यह भी पढ़ें: देवभूमि उत्तराखंड में समाज सेवा के कार्यों को तेजी से बढ़ाएगा संघ

उधर, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत नेसोशल मीडिया में पोस्ट कर कहा कि उत्तरकाशी क्षेत्र से चिंताजनक समाचार मिल रहे हैं। भारी वर्षा से भूस्खलन हुआ है। लोगों में डर है, संपर्क नहीं हो पा रहा है। लोगों को सुरक्षा देने व राहत बचाव के कार्य शुरू नहीं हो पाए हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड भाजपा ने जारी किया चुनाव कार्यक्रम, 15 दिसंबर तक मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप