संवाद सहयोगी, विकासनगर: राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डाकपत्थर में मंगलवार को एनसीसी व एनएसएस की ओर से संयुक्त रूप से रक्तदान जागरूकता कार्यशाला आयोजित कर छात्र-छात्राओं को रक्तदान के लिए प्रेरित किया गया। कार्यशाला में बतौर मुख्य वक्ता शिरकत कर रहे रंगकर्मी व साहित्यकार पुष्पेंद्र त्यागी ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए। इससे दूसरों का जीवन बच सकता है। दूषित रक्त से सचेत करते हुए कहा कि इससे घातक रोग शरीर में आ जाते हैं। उन्होंने स्वस्थ जीवन शैली अपनाकर शुद्ध रक्तदान करने पर जोर दिया।

महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. केएल बिष्ट ने छात्र-छात्राओं को रक्तदान करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि एक यूनिट रक्त देने से किसी के परिवार में खुशियां आ जाती हैं। रक्तदाता के शरीर पर रक्तदान से कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ता है। कहा कि प्रत्येक स्वस्थ व्यक्ति को 450 मिमी तक रक्तदान करना चाहिए। 24 घंटे में शरीर के भीतर रक्त की भरपाई हो जाती है। इस दौरान एनसीसी प्रभारी डॉ. प्रभात द्विवेदी, एनएसएस प्रभारी डॉ. कामना लोहानी, कार्यक्रम अधिकारी डॉ. योगेश भट्ट, डॉ. वीरेंद्र जोशी, डॉ. आरपी बडोनी, सीनियर अंडर आफिसर गौरव ठाकुर, दीक्षांत पुंडीर, मनीष, शिवम पांडेय, अनु, अंजलि, तुलसीराम, सलमान, हितेश आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस