जागरण संवाददाता, देहरादून: राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के औपचारिक ऐलान के बाद कांग्रेसी जश्न में डूब गए। ढोल की थाप पर कार्यकर्ताओं के साथ बड़े नेता भी खूब थिरके। आतिशबाजी हुई, अबीर-गुलाल उड़ा और मिठाइयां बांटी गई। जश्न के लिए मेरठ से विशेष रूप से शहनाई वादकों को बुलाया गया था।

राजपुर रोड स्थित कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में रविवार से ही तैयारी शुरू हो गई थी। दोपहर करीब एक बजे से नेताओं और कार्यकर्ताओं के आने का सिलसिला शुरू हुआ। सभी को इंतजार था कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में नाम वापसी की समय-सीमा पूरी हो। जैसे ही दोपहर सवा तीन बजे दिल्ली से सूचना आई कि राहुल गांधी का अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन हो गया है तो जश्न शुरू हो गया। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि पिछले 122 सालों में कई चुनौतियां का सामना किया और हर चुनौती को पार कर कांग्रेस और ज्यादा निखरी है। राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने से पार्टी और अधिक मजबूत होगी। पूर्व मंत्री दिनेश अग्रवाल ने कहा कि एक सार्वभौम लोकतांत्रिक सरकार की स्थापना, धर्मनिरपेक्ष और समाजवाद जैसे उच्च विचार हमेशा ही कांग्रेस की नीतियों के केंद्र में रहे हैं। इस दौरान पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, मंत्री प्रसाद नैथानी, वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट, प्रदेश महामंत्री विजय सारस्वत, मुख्य प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी, जिलाध्यक्ष ग्रामीण यामीन अंसारी, पूर्व महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, अशोक वर्मा, संजय पालीवाल, गोदावरी थापली, आजाद अली, ताहिर अली, सुलेमान अंसारी, महेश जोशी आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन महानगर अध्यक्ष पृथ्वीराज चौहान ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस