देहरादून, जेएनएन। कोरोना के नए मामले सामने आने के साथ कंटेनमेंट जोन की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। सोमवार को जिले में अब तक के सर्वाधिक 11 नए कंटेनमेंट जोन बनाए गए। राहत की बात यह जरूर है कि पांच कंटेनमेंट जोन समाप्त भी किए गए हैं। अब जिले में कंटेनमेंट जोन की कुल संख्या 42 हो गई है।

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के आदेश के मुताबिक, नगर निगम देहरादून क्षेत्र में फ्रेंड एन्क्लेव (डिफेंस कॉलोनी), पटेलनगर में मकान नंबर 305/4-2, रायपुर में न्यू कॉलोनी रांझावाला, कैनाल रोड पर शिप्रा विहार, डील हाउस (डील कॉलोनी), बालावाला क्षेत्र, रिंग रोड पर जागृति विहार, किशननगर में बड़थ्वाल निवास, ऋषिकेश क्षेत्र में आवास विकास कॉलोनी (ए-3, ए-4), आमबाग गली नंबर दो, मसूरी में सेंट जॉर्ज स्कूल (बालरेगंज) के एक हिस्से को कंटेनमेंट जोन बनाया गया। अग्रिम आदेश तक यहां के लोग बाहरी क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। जरूरत की वस्तुओं की आपूर्ति प्रशासन सुनिश्चित करेगा। दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने न आने के बाद पांच क्षेत्रों की पाबंदी समाप्त कर दी गई। इनमें मेहूंवालामाफी में वन विहार, धर्मपुर में भवन 150/04, विकासनगर में वार्ड एक का मिस्सरवाला व वार्ड पांच का बिचली जौली का भाग शामिल है।

दून अस्पताल में बेड की जानकारी को फोन नंबर जारी

कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बेड की दिक्कतें बढ़ने लगी है। प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना ने इस संदर्भ में गढ़वाल मंडल के सभी सीएमओ को पत्र भेजा है। जिसमें कहा गया है कि वह अपने स्तर पर सभी निजी अस्पतालों को दिशा निर्देश जारी करें। कोई भी अस्पताल दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बात करने के बाद ही मरीजों को यहां रेफर करें। अस्पताल ने पांच नंबर भी जारी किए हैं।

इन नंबरों पर करें संपर्क

  • इमरजेंसी: 9412080810, पीआरओ कार्यालय : 9412080805, 7017383897, 7579216352, 9456741757

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Coronavirus News Update: दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में कोरोना संक्रमित दो मरीजों की हुई मौत

लैब बंद कर सैनिटाइज न किए जाने पर एतराज

दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल की माइक्रोबॉयोजी लैब में एक तकनीशियन के संक्रमित पाए जाने के बाद लैब कर्मियों के भय का माहौल है। उनका आरोप है कि लैब को न सैनिटाइज किया गया, न ही बंद। प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना का कहना है कि लैब को लगातार सैनिटाइज कराया जा रहा है। संपर्क में आए कर्मियों के सैंपल दिलाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: निजी लैब दे रहीं कोरोना जांच की गलत रिपोर्ट, शासन ने बिठाई जांच; होगी कड़ी कार्रवाई

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस