संवाद सहयोगी, चम्पावत : विधान सभा निर्वाचन के नोडल अधिकारी (कार्मिक) राजेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को प्रशिक्षण से नदारद रहे मतदान अधिकारियों और सहायक अधिकारियों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाते हुए नोटिस जारी किए हैं। इनसे तत्काल अपना स्पष्टीकरण देने को कहा गया है। नोडल अधिकारी ने बताया कि शनिवार को चुनाव ड्यूटी में लगाए गए मतदान अधिकारियों और सहायक मतदान अधिकारियों का प्रशिक्षण रखा गया था। लेकिन सात अधिकारी प्रशिक्षण से अनुपस्थित रहे। बताया कि अनुपस्थित रही जीजीआइसी बनबसा की प्रवक्ता मीनाक्षी विश्वकर्मा, जीजीआइसी बनबसा की प्रवक्ता आरती शर्मा, जीजीआइसी टनकपुर की प्रवक्ता शिवांगी भट्ट, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय कठौल के सहायक अध्यापक गंगाधर आर्य, चम्पावत के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी मदन मोहन, चम्पावत के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी रविन्द्र सिंह और राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय बड़ैत के सहायक अध्यापक नरेंद्र पाल सिंह को नोटिस जारी कर बैठक से अनुपस्थित रहने का कारण पूछा गया है। शीघ्र स्पष्टीकरण नहीं मिला तो इनके खिलाफ लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत कार्रवाई की जाएगी। ========== पुलिस ने 64 लोगों के खिलाफ की निरोधात्मक कार्रवाई

संवाद सहयोगी, चम्पावत : विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए पुलिस आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। शुक्रवार की शाम तक 64 व्यक्तियों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई की गई। सीओ शांति प्रसाद गंगवार ने बताया कि पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पींचा के निर्देश पर पुलिस ने चम्पावत, टनकपुर, लोहाघाट, बनबसा, पाटी सहित विभिन्न थाना क्षेत्रों में लगातार अभियान चला रही है। चम्पावत में चार लोगों के विरूद्ध धारा 110जी सीआरपीसी के तहत, 57 लोगों के विरुद्ध धारा 107/116 सीआरपीसी के तहत कार्रवाई करने के साथ तीन वारंटियों पर कार्रवाई की गई।

Edited By: Jagran