संवाद सहयोगी, चम्पावत : नेहरू युवा केंद्र चम्पावत द्वारा अमृत महोत्सव एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिन पर पाटी विकास खंड मुख्यालय में आठ किमी की ओपन दौड़ का आयोजन किया गया। दौड़ का शुभारंभ मुख्य अतिथि ब्लाक प्रमुख सुमनलता ने किया। उन्होंने केंद्र की इस पहल का स्वागत करते हुए दीन दयाल उपाध्याय के जीवन पर प्रकाश डाला।

उन्होंनेकहा कि दीनदयाल उपाध्याय की एकात्म मानववाद की विचारधारा समावेशित विचारधारा थी। वे एक सशक्त और मजबूत राष्ट्र की नींव रखना चाहते थे। उन्होंने कहा कि युवाओं को आजादी का महत्व एवं अपना कर्तव्य समझते हुए राष्ट्र निर्माण के काम में आगे आना चाहिए। नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा अधिकारी आशीष पाल ने अतिथियों एवं युवाओं का स्वागत किया तथा कार्यक्रम की रूपरेखा से अवगत कराया। उन्होंने लोगों से पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारों, मूल्यों और दर्शन से प्रेरणा लेने की अपील की। बालक ओपन वर्ग की दौड़ में सागर सिंह बिष्ट, सूरज पाटनी, योगेश मेहरा, सुरेश चंद्र, प्रकाश उप्रेती और बालिका ओपन में निकिता मेहता, ज्योति गोस्वामी, पूजा गोस्वामी, मीना बिष्ट, प्रेमा पाटनी क्रमश: पहले से पांचवें स्थान पर रहे। सभी प्रतिभागियों को नेहरू युवा केंद्र की ओर से पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया। ======= पोस्टर में सुमन व निबंध में अपूर्वा ने मारी बाजी

पिथौरागढ़: राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के स्थापना दिवस पर महाविद्यालय में हुई पोस्टर व निबंध प्रतियोगिता के परिणाम घोषित किए गए। जिसमें अव्वल प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य प्रो. अशोक नेगी ने किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि एनएसएस की स्थापना समाज सेवा के कार्याें को निष्ठापूर्वक करने के लिए हुई है और महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं इस कार्य निर्वहन बखूबी निभा रहे हैं। एनएसएस प्रभारी प्रो. सरोज वर्मा ने एनएसएस की स्थापना, उद्देश्य व इतिहास की विस्तृत जानकारी दी। इस दौरान हुई पोस्टर प्रतियोगिता में सुमन व काजल ने प्रथम, अपूर्वा द्वितीय, मनीषा व हर्षल ने तृतीय स्थान हासिल किया। निबंध प्रतियोगिता में पल्लवी खर्कवाल ने प्रथम, शिवानी व दीप्ति ने द्वितीय, काजल ने तृतीय स्थान हासिल किया। इससे पूर्व छात्राओं ने पारंपरिक परिधान पहनकर रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

Edited By: Jagran