लोहाघाट, जेएनएन : कोविड के कारण इस बार मडलक में 16 नवंबर को होने वाला मां वैष्णवी मेला स्थगित कर दिया गया है। गुरुवार को मेला समिति की बैठक सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया।

बैठक के दौरान मौजूद भगवती के देव डांगर शीषपाल, खीम सिंह धामी, खीमा देवी, गंगा दत्त पांडेय ने कोविड के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन के अनुरोध के बाद मेले को स्थगित करने का सुझाव दिया। देव डांगरों के इस सुझाव को सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया गया। समिति के अध्यक्ष पवन कुमार जोशी ने बताया कि भैया दूज के दिन ग्राम पंचायत बगौटी मजपीपल, गुरेली, सैलपैडू, सेल्ला से वैष्णवी मंदिर आने वाले जत्थों को भी स्थगित किया गया है। मंदिर में शारीरिक दूरी के नियमों को पालन कर पूजा अर्चना की जाएगी। इस दौरान शंकर दत्त पांडेय, देव सिंह धौनी, धर्मानंद पांडेय, संतोक सिंह रावत, कमलाकांत, आनंद बल्लभ जोशी, हरीश चंद्र, महेंद्र सिंह, बद्री सिंह, निलाप सिंह, पूरन पंत, हरी सिंह, पूरन चंद्र लोहनी, भुवन चंद्र भट्ट, भीम पंत, गणेश सिंह आदि मौजूद रहे। बता दें कि मडलक क्षेत्र नेपाल सीमा से सटा हुआ है। भैया दूज के मेले में यहां बड़ी संख्या में नेपाली नागरिक भी हिस्सा लेते हैं। मेले में भीड़ जुटने की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने आयोजकों से इस बार मेले का स्वरूप छोटा करने का अनुरोध किया था। एसडीएम आरसी गौतम ने बताया कि प्रशासन ने चार माह पूर्व ही जिले में संचालित सभी मेलों का आकार छोटा करने का अनुरोध किया था, ताकि भीड़ कम होने से कोविड के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। प्रशासन के अनुरोध के बाद इससे पूर्व भी जिले में होने वाले कई प्रमुख मेलों और महोत्सवों को या तो स्थगित किया गया है या फिर उनका आकार छोटा किया गया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप