जागरण संवाददाता, चम्पावत : नगर निकाय चुनाव की आचार संहिता के दौरान नगर पालिका चम्पावत में करोड़ों रुपये के गड़बड़झाले का मामला अब सीएम पोर्टल के माध्यम से सीएम दरबार में पहुंच गया है। पूर्व पालिकाध्यक्ष ने मामले की शिकायत सीएम पोर्टल में की है। जहां से शिकायत डीएम के पास आ गई है। डीएम ने मामले की जांच किए जाने की बात कही है।

गौरतलब है कि नगर पालिका चम्पावत में नगर निकाय चुनाव की आचार संहिता में करोड़ों रुपये के निर्माण कार्य कराए गए। जिसमें लाखों रुपये के बजट की बंदरबांट किया गया। दैनिक जागरण ने आरटीआइ से जानकारी लेने के बाद मामले को प्रमुखता से प्रकाशित किया। जिस पर पूर्व डीएम रणवीर सिंह चौहान ने मार्च माह में एडीएम टीएस मर्तोलिया के नेतृत्व में जांच टीम गठित कर जांच के आदेश दिए थे। बीती 15 मई को राज्य निर्वाचन आयोग ने सचिव रोशन लाल ने शहरी विकास सचिव को ईओ अभिनव कुमार के खिलाफ गैर कानूनी कार्य करने पर कार्रवाई के आदेश दिए। करीब आठ माह बाद जब एडीएम मर्तोलिया ने जांच रिपोर्ट डीएम को सौंपी तो नगर पालिका में हुआ गड़बड़झाला उजागर हुआ। जांच टीम ने दैनिक जागरण की खबर पर मुहर लगाई। जांच रिपोर्ट में दोषियों के नाम सही से उजागर न होने पर डीएम ने पुन: एडीएम को जांच कर रिपोर्ट देने को कहा। तीन दिन पूर्व पूर्व पालिकाध्यक्ष प्रकाश तिवारी ने मामले को सीएम पोर्टल में शिकायत कर सीएम दरबार पहुंचा दिया है। सीएम पोर्टल से शिकायत भी जनपद पहुंच गई है। जिसमें डीएम ने जांच किए जाने की बात कही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप