जागरण संवाददाता, चम्पावत : बारिश समाप्त होने के बाद शुक्रवार देर शाम डीएम ने ऑल वेदर सड़क चौड़ीकरण कार्य की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने एनएच ईई को निर्देश दिए कि आगामी माहों में चौड़ीकरण, ब्लैक टॉप, कलवट, रिटर्निग एवं ब्रेस्ट वाल, नाली, क्रश वैरियर आदि सभी कार्य तय समय पर पूर्ण करें और प्रत्येक माह की प्रगति से अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि वर्षाकाल समाप्त हो चुका है और कार्य में प्रगति लाने का समय है, इसलिए सभी कार्यदायी संस्थाएं मैन पावर व मशीनरी बढ़ाकर कार्य को तय समय पर पूर्ण करें। जिससे यात्रियों, वाहन चालकों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े।

उन्होंने क्त्रोनिक जोनों में वैरियर लगाने, खतरे वाले स्थानों पर सावधानी का बोर्ड लगाने और यात्रियों, वाहनों की सुरक्षा हेतु सभी इंतजामात करने के निर्देश दिए। अधिशासी अभियंता एनएच एलडी मथेला ने बताया कि टनकपुर से बेलखेत प्रथम फेज में कंपनी ने दो वर्षो में 77.05 करोड़ व्यय कर 54.44 प्रतिशत भौतिक प्रगति प्राप्त की है। उन्होंने बताया कि वर्तमान तक 39.730 किमी. चौड़ीकरण के सापेक्ष 37.60 किमी पूर्ण कर लिया गया है। बेलखेत से चम्पावत से द्वितीय फेज में कंपनी ने 158 करोड़ व्यय कर 77.01 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि 28.670 किमी. चौड़ीकरण के सापेक्ष 26.56 किमी कार्य पूर्ण कर लिया है। तृतीय फेज में कंपनी ने 27.180 किमी चौड़ीकरण के सापेक्ष 24 किमी कार्य पूर्ण कर लिया है। उन्होंने बताया कि च्यूरानी से पिथौरागढ़ तक चतुर्थ फेज में कंपनी ने 128.08 करोड़ व्यय कर 77.75 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने बताया कि 31.440 किमी. चौड़ीकरण के सापेक्ष 28.82 किमी का कार्य पूरा कर लिया गया है। बैठक में अपर जिलाधिकारी टीएस मर्तोलिया, उप जिलाधिकारी अनिल गब्र्याल, अधिशासी अभियंता जल संस्थान बिलाल युनुस, जल निगम बीके जोशी, सहायक अभियंता एनएच एनसी पाण्डे, एसडीओ वन एमएम भट्ट, आपदा प्रबंधन अधिकारी मनोज पांडे सहित सभी प्रोजक्ट के मैनेजर आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप