जागरण टीम, गढ़वाल: शनिवार सुबह से पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश जारी रही। घना कोहरा छाने से लोगों को वाहन चलाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हिल स्टेशनों में लोगों को सर्दी का सामना करना पड़ रहा है। लोगों गर्म कपड़े पहनने शुरू कर दिए हैं।

नई टिहरी में शनिवार तड़के तेज बारिश हुई और उसके बाद आसमान में बादल छाए रहे, लेकिन दोपहर बाद फिर से तेज बारिश शुरू हो गई। बारिश के साथ ही हवाएं भी चलती रही जिस कारण नई टिहरी में मौसम काफी ठंडा हो गया है। सर्दी के कारण लोगों के गर्म कपड़े बाहर निकाल आए हैं। दोपहर को हुई बारिश से पानी सड़कों पर बहता रहा जिस कारण लोगों को आवागमन में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कई जगहों पर पानी के साथ कचरा भी सड़क पर फैल गया।

चमोली जिले में मौसम का मिजाज बदला है। दिनभर हुई बारिश से बदरीनाथ हाईवे भी दोपहर बाद लामबगड़ में बंद है। हालांकि यात्री पैदल आवाजाही कर रहे हैं।

उधर कर्णप्रयाग क्षेत्र में शनिवार सुबह से ही क्षेत्र में मौसम का मिजाज बदला-बदला रहा। दिनभर रूक-रूक कर हुई बारिश से घाटी वाले क्षेत्रों में लगातार तीन दिन से हो रही बारिश से सुबह व शाम ठंड ने दस्तक दे दी है। नगर क्षेत्र कर्णप्रयाग में रातभर हुई मूसलाधार बारिश से जगह-जगह नालियों की निकासी व्यवस्था बंद होने से जलभराव की समस्या बनी रही। गौचर-कर्णप्रयाग के मध्य गलनाऊं में लगातार जारी बारिश से ऐंड मोटर मार्ग का मलबा बदरीनाथ राजमार्ग पर खतरे को न्यौता दे रहा है। इसी तरह सिमली-कर्णप्रयाग, कर्णप्रयाग-लंगासू के मध्य भी ऑलवेदर कटिंग कार्य का मलबा वाहनों की आवाजाही को कष्टप्रद बना रहा है।

श्रीनगर गढ़वाल में बीते शुक्रवार रात्रि से हो रही रिमझिम बारिश का सिलसिला शनिवार दोपहर तक भी जारी रहा। पिछले कुछ दिनों से हो रही उमस भरी गर्मी से भी लोगों को निजात मिली। बारिश होते ही मौसम में ठंडक रही। शनिवार सुबह से हो रही बारिश से बाजार भी सूने नजर आए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप