चमोली, [जेएनएन]: गोविंदघाट में नदी किनारे जंगल में लकड़ी बीनने गए एक परिवार के चार सदस्य अलकनंदा नदी का पानी बढ़ने से पानी से घिर गए। पुलिस ने रेस्क्यू कर सभी को बचा लिया। 

एनएच हाईवे पर मजदूरी करने वाला राजेश महतो गत शाम पत्नी रत्ना महतो, बेटी शिवानी महतो व रवीना महतो के साथ नदी किनारे जंगल में लकड़ी बीनने गया था। शाम को वापस लौटते समय नदी में अचानक पानी बढ़ गया। इसके उनके चारों तरफ पानी घिर गया और वे टापू में फंस गए। 

सूचना पर पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद सभी को सकुशल निकाला गया। बताया जा रहा है कि यह परिवार मूल रूप से मध्य प्रदेश का रहने वाला है, जो यहां मजदूरी के लिए आया हुआ है। 

यह भी पढ़ें: मानसून का आगमन व विदाई खतरनाक, सचेत रहने की जरूरत

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ में बादल फटा, 17 की मौत; सेना के पांच जवान सहित 30 लापता

यह भी पढ़ें: कोटद्वार में फटा बादल, पुलिया बही; काश्त की भूमि हुई तबाह

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस