संवाद सहयोगी, कर्णप्रयाग:

डा. शिवानंद नौटियाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय का वार्षिक क्रीड़ा समारोह का आयोजन आठ किमी दूर महाविद्यालय का खेल मैदान न होने पर नौ एवं 10 दिसंबर को गौचर खेल मैदान में होगा।

महाविद्यालय प्राचार्य डा.जगदीश प्रसाद ने बताया कि महाविद्यालय के नाम सेमीग्वाड़ में 100 नाली भूमि है। लेकिन सड़क मार्ग न होने से समतलीकरण नहीं हो पाया है, जबकि इस संबध में कई बार उच्च शिक्षा विभाग व शासन को अवगत कराया जा चुका है। स्थानीय जनप्रतिनिधि सतीश सेमवाल, बिरेंद्र रावत ने कहा कि उक्त भूमि में छात्रावास सहित खेल मैदान के दावे तो सरकार करती रहती है, लेकिन सच्चाई इसके उलट है। वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिता सहित छोटे-बडे़ ब्लाक स्तरीय आयोजनों के लिए विद्यालयों को गौचर आठ किमी दूर जाना पड़ता है।

--------------

दो दिवसीय वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिता आज से

दो दिवसीय क्रीड़ा समारोह का उद्घाटन आज गौचर क्रीड़ा मैदान में किया जाएगा। प्रथम दिवसीय प्रात: नौ बजे गौचर क्रीड़ा मैदान में महाविद्यालय में प्राचार्य डा. जगदीश प्रसाद झंडारोहण एवं मार्च पास्ट की सलामी लेंगे। क्रीड़ा प्रभारी डा. वीआर अंथवाल ने बताया की गोला फेंक, चक्का फेंक, भाला फेंक, ऊंची कूद, लंबी कूद, खो-खो दौड़ का आयोजन किया जाएगा। द्वितीय दिवसीय की समस्त प्रतियोगिताओं का आयोजन महाविद्यालय में किया जाएगा। जिनमें कैरम, टीटी बैडमिटन, शतरंज, वालीबाल, रस्सा-कस्सी, छात्र एवं छात्रा वर्ग की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। क्रीड़ा प्रभारी डा. वीआर अंथवाल ने प्रतियोगिताओं को संपन्न कराने के लिए संयोजक एवं सदस्य नियुक्त किए।

बैठक में डा. एमएस कण्डारी, डा. एसआर सिंह, डा. वाइसी नैनवाल, डा. आरसी भट्ट, डा. राधा रावत, डा. कविता पाठक, डा. चंद्रावती टमटा, डा. रूपेश कुमार श्रीवास्तव, डा. डीएस राणा, डा. एएस रावत, डा. एचसी रतूड़ी, डा. नेतराम, डा. कीर्तिराम डगवाल, डा. मदन लाल शर्मा, डा. मृगांक मलासी, डा. विजय कुमार, डा. जितेंद्र चौहान सहित समस्त प्राध्यापक एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran