संवाद सहयोगी, गोपेश्वर: जिलाधिकारी स्वाति एस. भदौरिया ने कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित जनता दरबार में फरियादियों की शिकायत सुनते हुए सभी विभागीय अधिकारियों को समस्याओं को प्राथमिकता से हल करने के निर्देश दिए। जनता दरबार में जिला पूíत अधिकारी के उपस्थित न होने पर उनका एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने विभागीय स्तर पर शिकायतों के निस्तारण के संबध में की जा रही कार्रवाई से जिला कार्यालय को नियमित रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों को प्राप्त शिकायतों की नियमित मॉनीट¨रग एवं रिपोíटग के लिए विभागीय स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त करने को कहा। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि प्रत्येक बुधवार को न्याय पंचायत दिवस पर अपने न्याय पंचायत स्तरीय अधिकारी, कर्मचारियों को जन समस्याएं सुनने के लिए निर्देशित करें। जिलाधिकारी ने जनपद में यूपीआरएनएन के माध्यम से संचालित सभी निर्माण कार्यों की सूची भी उपलब्ध कराने को कहा।

जन सुनवाई के दौरान गडोरा ग्राम वासियों ने डबराल नगर के निकट राष्ट्रीय राजमार्ग पर भू-धसाव होने के कारण आवासीय भवन, होटल, लाज, गोशाला एवं कृषि भूमि को बने खतरे की शिकायत की। पगना-झीझी, सप्तकुंड-झीझी के मध्य पैदल पुलिया क्षतिग्रस्त होने एवं ग्राम पाणा, ईराणी, दुर्मी, पगना में पैदल रास्ते क्षतिग्रस्त होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने पैदल पुलिया निर्माण तथा रास्ते ठीक कराने को कहा। सलूड़ गांव के कुंड तोक में हो रहे भूमि कटाव को रोकने के लिए अधिशासी अधिकारी ¨सचाई को चेकडैम निर्माण के लिए आंगणन तैयार करने को कहा। देवसारी में मनरेगा के तहत श्रमिकों की मजदूरी का विगत दो वर्षों से भुगतान न होने की शिकायत पर सीडीओ व डीडीओ को कार्रवाई के निर्देश दिए।

Posted By: Jagran