संवाद सहयोगी गोपेश्वर : बदरीनाथ व हेमकुंड साहिब की ऊंची चोटियों पर हल्की बर्फबारी के साथ निचले इलाकों में बारिश हुई है। साथ ही टिहरी में ओलावृष्टि से काश्तकारों को भारी नुकसान पहुंचा है। वहीं पौड़ी में भी हल्की बारिश हुई।

शुक्रवार को चमोली जिले में सुबह से मौसम साफ था। दोपहर बाद आसमान में बादल छाने के साथ ही श्री बदरीनाथ धाम व हेमकुंड साहिब की चोटियों पर हल्की बर्फबारी हुई है। गोपेश्वर में सायं तेज बारिश के साथ ही कुछ देर तक अंधड़ से जनजीवन प्रभावित रहा। (संस)

ओलावृष्टि से मटर की फसल को पहुंचा नुकसान

संवाद सहयोगी,नई टिहरी : शुक्रवार को जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश के साथ ही भारी ओलावृष्टि से मटर सहित अन्य फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। वहीं जिला मुख्यालय में भी हल्की बारिश के साथ ही हवा चलती रही।

शुक्रवार को एक बार फिर मौसम के बदले मिजाज से जनपद के डांडाचली, रानीचौरी, गजा सहित भिन्न जगहों पर बारिश के साथ ही भारी ओलावृष्टि शुरू हो गई। जिससे मटर एवं फलदार पौधों को भारी नुकसान पहुंचा है। अभी कुछ दिन पूर्व हुई ओलावृष्टि से भिलंगना में काश्तकारों की फसल चौपट हो गई थी। वहीं शुक्रवार को हुई बारिश व ओलावृष्टि के चलते डांडाचली, रानीचौरी सहित कई जगहों पर भारी ओलावृष्टि हुई है। जिस लोगों की मटर सहित अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा है। जिस कारण काश्तकार मायूस है। काश्तकार दिनेश प्रसाद, राजेंद्र पुंडीर का कहना है कि उन्होंने मेहनत से फसल तैयार की। लेकिन ओलावृष्टि ने उनकी मेहनत पर पानी फेर दिया है। (संस) बारिश से खुशनुमा हुआ मौसम

पौड़ी : मंडल मुख्यालय पौड़ी में शुक्रवार को हल्की बारिश से मौसम खुशनुमा बना रहा। सुबह से ही बादल छाने के बाद दोपहर बाद बादल छंटने शुरू हो गए थे। शुक्रवार सायं मौसम ने फिर करवट बदली और कुछ समय के लिए बारिश हो गई। हल्की बारिश से यहां का मौसम खुशनुमा हो चला है। (संस)

Posted By: Jagran