संवाद सहयोगी, गोपेश्वर : बदरीनाथ धाम में बिना फूड लाइसेंस के संचालित किए जा रहे सात व्यापारिक प्रतिष्ठानों को वरिष्ठ खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने नोटिस जारी किया है। जबकि छह व्यापारियों के होटल, रेस्टोरेंट एवं ढाबों में बाटमाप सत्यापन प्रमाणीकरण व घरेलू गैस सिलिंडर का उपयोग पाए जाने पर जिला पूर्ति अधिकारी ने चालान कर प्रति सिलिंडर 1500 के हिसाब से नौ हजार रुपये अर्थदंड के रूप में वसूल किए।

शुक्रवार को प्रभारी जिलाधिकारी वरूण चौधरी के निर्देशों पर जिला पूर्ति अधिकारी, वरिष्ठ खाद्य सुरक्षा अधिकारी एवं बाट माप विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम ने श्री बदरीनाथ धाम में संचालित व्यापारिक प्रतिष्ठानों, होटल, रेस्टोरेंट, ढाबे एवं दुकानों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान तीन दर्जन से अधिक दुकानों में घटतोली, ओवर रेटिग एवं सफाई व्यवस्था की जांच की गई। निरीक्षण के दौरान होटल व रेस्टोरेंट में रेट सूची एवं होटल संचालन का लाइसेंस डिस्प्ले बोर्ड पर लगाए जाने के निर्देश दिए गए। इसके अतिरिक्त किचन में साफ सफाई रखने एवं कार्मिकों को एप्रिन व हैड कवर का प्रयोग कराने के साथ ही नियमित हेल्थ चेकअप कराने को कहा गया। संयुक्त टीम ने निरीक्षण आख्या जिलाधिकारी को भेज दी है। हुक्का पीकर हुड़दंग मचा रहे हरियाणा के तीन यात्रियों को पुलिस ने वापस भेजा

संवाद सहयोगी, गोपेश्वर : चमोली जिले में तीर्थ यात्रा के दौरान सार्वजनिक स्थानों पर हुड़दंग मचा रहे यात्रियों से निपटने के लिए पुलिस लगातार मिशन मर्यादा अभियान चला रही है। शुक्रवार को गौचर के पास हरियाणा के तीन तीर्थ यात्रियों को हुक्के के साथ गिरफ्तार किया है। हाईवे के किनारे हुड़दंग की शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो युवक पुलिस पर रौब झाड़ने लगे। पुलिस ने धार्मिक व पर्यटन स्थलों में हुड़दंग व गंदगी करने, मादक पदार्थों का सेवन कर लोक शांति भंग करने के आरोप में तीनों युवकों को हुक्का सहित गिरफ्तार कर हुक्का जब्त किया। पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बताया कि हुड़दंगियों के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें गौचर से वापस लौटाया है। एसपी ने कहा कि तीर्थ यात्रियों से आग्रह है कि वे देवभूमि की पवित्रता को बनाए रखें। धार्मिक स्थलों पर हुड़दंग व पर्यटन स्थलों पर गंदगी न करें।

Edited By: Jagran